BREAKING NEWS सोनिया गांधी को पहला झटका,सारे विधायक भाजपा में चले गए

0
3865

बीजेपी ने सिक्‍किम में बड़ा उलटफेर करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री पवन चमलिंग (Pawan Kumar Chamling) को छोड़कर सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (SDF) के सभी 10 विधायकों को अपने पाले में कर लिया है. यहां पूर्व मुख्‍यमंत्री पवन कुमार चामलिंग को छोड़कर सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के सभी विधायकों ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के 10 विधायकों ने मंगलवार को बीजेपी का दामन थाम लिया. दिल्‍ली में इस अवसर पर बीजेपी के कार्यकारी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी महासचिव राम माधव भी मौजूद रहे.

इस साल मई में हुए चुनाव में 32 विधानसभा सीटों में 15 पर एसडीएफ ने जीत हासिल की थी और 15 सीटों पर सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने जीत हासिल की थी. इस जीत के बाद प्रेम तमांग ने मुख्यमंत्री का पदभार संभाला था. सिक्किम में पिछले 25 साल से एसडीएफ की सत्ता थी लेकिन इस साल मई में हुए चुनाव में पवन चामलिंग की सरकार को हार का सामना करना पड़ा था. चुनाव में चामलिंग अपनी 25 साल की सत्ता नहीं बचा पाए थे.

चामलिंग 1994 से राज्य के मुख्यमंत्री रहे थे. 68 साल के पवन लगातार सबसे ज्यादा वक्त (25 साल) तक मुख्यमंत्री रहने वाले इकलौते नेता हैं. उनकी 26 साल पुरानी पार्टी को 6 साल पहले बनी सिक्किम क्रांतिकारी पार्टी (एसकेएम) ने कड़ी टक्कर के बाद हराया. विधानसभा की 32 सीटों में से एसडीएफ को 15 और एसकेएम को 17 सीटें मिलीं. राज्य में सत्ता के लिए 17 सीटें होना जरूरी हैं.एसकेएम के प्रेम सिंह तमांग मुख्यमंत्री बने.