मोहम्मद आरिफ ने जिंदा जलाया बीवी को, ससुर बन्ने, सास हनीफा, जेठ तालिब और तारिक शामिल

291
उत्तर प्रदेश के रामपुर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। थाना खेड़ा टांडा निवासी एक युवक ने दहेज की माँग पूरी न करने पर बीबी को पहले तीन तलाक दिया फिर परिजनों की मदद से उसे आग के हवाले कर दिया। 75 फीसदी झुलस चुकी पीड़िता सीमा अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है। उसके शौहर आरिफ को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपितों की तलाश की जा रही है।
मीडिया रिपोर्टों के अनुसार घटना रविवार (9 फरवरी 2020) को दहेज़ को लेकर सीमा और आरिफ के बीच झगड़ा हुआ। झगड़े के दौरान ही आरिफ ने तीन तलाक दे सीमा को घर से निकलने को कहा। इसका विरोध करने पर मिट्टी का तेल डाल आग के हवाले कर दिया और मौके से फरार हो गया। सीमा की चीख पुकार सुन आस-पड़ोस के लोग मौके पर पहुँचे और उसे जिला अस्पताल गए ले गए। हालत देख उसे मुरादाबाद के टीएमयू सेंटर रेफर कर दिया गया।
सीमा के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने शौहर आरिफ सहित पाँच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इनमें ससुर बन्ने, सास हनीफा, जेठ तालिब और तारिक भी शामिल हैं। अजीमनगर थाना प्रभारी अमरीश कुमार ने बताया कि आरोपित पति आरिफ को सोमवार को खेमपुर बस अड्डे से गिरफ्तार कर लिया गया है। जल्द ही अन्य आरोपित भी गिरफ़्तार कर लिए जाएँगे।
जानकारी के मुताबिक खेड़ा टांडा निवासी नजाकत अली की बेटी सीमा का निकाह दो साल पहले दौंकपुरी टांडा निवासी मोहम्मद आरिफ से हुआ था। सीमा के परिजनों ने निकाह में सात लाख रुपये खर्च किए थे। आरोप है कि ससुराल के लोग उसे कम दहेज लाने का ताना देते थे। वे दहेज में बोलेरो गाड़ी की मॉंग कर रहे थे। मॉंग पूरी नहीं होने पर उसे प्रताड़ित करते थे।