फर्जी आर्म्स लाइसेंस मामला: गिरोह में दो IAS समेत आठ प्रशासनिक अधिकारी हैं शामिल

0
490

आतंकवादी निरोधक दस्ता (एटीएस) ने आॅपरेशन जुबैदा के तहत जो फर्जी आर्म्स लाइसेंस बनाने और बनवाने वाले शातिरों के खिलाफ कार्रवाई की है उस गिरोह में जम्मू के दो आईएएस समेत आठ प्रशासनिक अधिकारी शामिल हैं। यह खुलासा एटीएस की जांच में हुआ है। वहीं एटीएस की टीम ने मंगलवार को गिरफ्तार किए फर्जी आर्म्स लाइसेंस गिरोह के सरगना और लाइसेंस बनवाने के मामले में 40 लाख रुपए लेने वाले कुमार ज्योति रंजन को बुधवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे एक दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया।

एटीएस के आईजी बीजू जॉर्ज जोसफ ने बताया कि गिरफ्तार किए गए कुमार ज्योति रंजन के आईएएस  भाई की भी भूमिका संदिग्ध है। पूरे प्रकरण में दो आईएएस समेत आठ प्रशासनिक अधिकारी शामिल हैं। इन सभी की जांच की जा रही है। एटीएस की टीम लगातार मॉनिटरिंग कर रही है। सबूत पूरे होने के बाद अगली गिरफ्तारी की जाएगी। गौरतलब है कि एटीएस ने जम्मू में तैनात डीएम के ज्योति रंजन को पकड़ा है, जिससे पूछताछ की जा रही है।