Friday, July 31, 2020
Uncategorized

योगी आदित्यनाथ के खिलाफ षड्यंत्र करने वाला पकड़ा ही गया,काँग्रेस और ओवैसी की पार्टी ने मिल कर रचा था

राजधानी लखनऊ के हजरतगंज स्थित लोकभवन (मुख्यमंत्री कार्यालय) के गेट नंबर तीन के सामने खुद को आग लगाने वाली मां-बेटी के मामले में कांग्रेस प्रवक्ता अनूप पटेल (Congress Anoop Patel) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अनूप पटेल को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया. अनूप पटेल पर अमेठी (Amethi) की मां-बेटी को आत्मदाह के लिए उकसाने का आरोप है. आपको बता दें कि बीते 17 जुलाई को यूपी विधानसभा के सामने अमेठी की रहने वाली मां-बेटी ने आत्मदाह का प्रयास किया था. बताया जा रहा है कि कांग्रेस और एमआईएम नेता ने योगी सरकार को बदनाम करने के लिए इस कृत्य को अंजाम दिलाया था, लेकिन लखनऊ पुलिस की जांच ने इनकी पोल खोल दी.
इस घटना से पहले कांग्रेस ऑफिस जानकर कांग्रेस प्रवक्ता अनूप पटेल से दोनों महिलाओं ने मुलाकात की थी. खुद अनूप पटेल ने एक बड़े चैनल के पत्रकार को फोन करके इस खबर की कवरेज करने को कहा था. पत्रकार ने पुलिस को इसकी जानकारी दे दी थी. इस मामले में गुड़िया की रिश्तेदार महिला, उसके बेटे व एआइएमआइएम अमेठी के जिला अध्यक्ष कदीर खान को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.
एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्र के मुताबिक मां बेटी के आत्मदाह की घटना सामने आने के बाद से आरोपित कांग्रेस नेता फरार चल रहा था. अनूप पटेल के खिलाफ न्यायालय से गैर जमानती वारंट भी जारी किया गया था. पुलिस टीम संभावित स्थानों पर दबिश दे रही थी. गुरुवार को पुलिस ने अनूप पटेल को दबोच लिया. आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. अनूप पटेल ने अमेठी के जामो निवासी साफिया और उसकी बेटी गुड़िया को लोक भवन के सामने आत्मदाह के लिए उकसाया था.
लखनऊ के संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था नवीन अरोरा ने बताया था, ”मां-बेटी अमेठी के जामो की रहने वाली हैं. वहां कुछ लोगों से नाली का विवाद था. इसे लेकर मारपीट हुई थी. बेटी की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया था. दोनों ने वहां की पुलिस व प्रशासन पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए 17 जुलाई की शाम लखनऊ लोकभवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया.”

Leave a Reply