करोना वायरस लेगा ईरान में 35 लाख,अमेरिका में 22 लाख और इंग्लैंड में 5 लाख जान

    55
    कोरोना वायरस की महाआपदा से ईरान बुरी तरह से जूझ रहा है। चीन, इटली के बाद ईरान में इस वायरस से सबसे ज्‍यादा लोग संक्रमित हुए हैं। ताजा आंकड़ों पर नजर डालें तो अब तक 16,169 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं और 988 लोगों की मौत हो गई है। इस बीच ईरान में हुए एक अध्‍ययन में चेतावनी दी गई है कि मई तक 35 लाख लोग कोरोना से मारे जा सकते हैं।
    अमेरिकी प्रतिबंधों की मार झेल रहे ईरान की शरीफ यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस को लेकर कंप्‍यूटर सिमुलेटर के आधार पर कई परिस्थितियों का अनुमान लगाया है। इसमें कहा गया है कि अगर सरकार सभी प्रभावित इलाकों को क्वरेंटीन करती है, लोग नियमों का सख्‍ती से पालन करते हैं और इलाज की सुविधाएं मुहैया होती हैं तो भी एक हफ्ते में यह बीमारी अपने चरम तक प
    कोरोना वायरस के कहर से पूरी दुनिया जूझ रही है। कोरोना से बचाने के लिए सरकारें हरसंभव प्रयास कर रही हैं। इस बीच एक ब्रिटिश शोध रिपोर्ट के बाद अमेरिका और ब्रिटेन की सरकारें सकते में आ गई हैं। इस शोध में कहा गया है कि आने वाले समय में कोरोना से अमेरिका में 22 लाख और ब्रिटेन में 5 लाख लोगों की मौत हो सकती है।
    ब्रिटिश शोध रिपोर्ट के आने के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जोहान्‍सन ने कोरोन से निपटने के लिए और ज्‍यादा कड़े कदम उठाए हैं। दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था ब्रिटेन में लोगों को घरों से बाहर न निकलने और विभिन्‍न बीमारियों से जूझ रहे 70 लाख लोगों को अलग-थलग रहने के लिए कहा है। यह अध्‍ययन इंपीरियल कॉलेज लंदन में प्रफेसर नील फर्गुसन ने इटली कोरोना के आंकड़ों के आधार पर किया है।
    फर्गुसन की टीम ने कहा कि अगर इस बीमारी को रोकने के गंभीर प्रयास नहीं किए गए तो ब्रिटेन में 5 लाख और अमेरिका में 22 लाख लोगों की मौत हो सकती है। अध्‍ययन में कहा गया है कि सरकार के पहले के कोरोना के प्‍लान से भी करीब 250,000 लोगों की मौत हो सकती है। इसके अलावा स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं पर भी भार बहुत बढ़ जाएगा।
    कोरोना से लड़ाई का केंद्र अब चीन नहीं यूरोप
    ‘पब, क्‍लब और थियेटर में न जाएं लोग’
    वैज्ञानिकों ने कहा कि जब तक कोरोना वायरस का प्रभाव कम नहीं हो जाता त‍ब तक लोग पब, क्‍लब और थियेटर में न जाएं। इसके अलावा सामाजिक दूरी बनाए रखें। इस शोध में शामिल प्रफेसर अजरा घनी ने कहा, ‘कोरोना हमारे समाज और अर्थव्‍यवस्‍था पर बहुत बड़ा दबाव डालने जा रहा है।’ वहीं एक अन्‍य सदस्‍य टिम कोलबर्न ने कहा कि ‘आने वाला समय बहुत कठिन है।’
    इस शोध के सामने आने के बाद ब्रिटिश सरकार ने बहुत कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। साथ ही कहा है कि नए सुझावों को भी सरकार के एक्‍शन प्‍लान में शामिल किया जाएगा। अमेरिका में अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण के 6,319 मामले सामने आए हैं और 107 लोगों की मौत हो गई है। उधर, ब्रिटेन में कोरोना के 1,950 मामले प्रकाश में आए हैं और 71 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।
    कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर विश्वभर में दहशत फैली हुई है. पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की वजह से मरने वालों की संख्या 5,833 हो गई है, जबकि 1.55 लाख से भी अधिक लोगों में इसका संक्रमण फैल चुका है. ईरान (Iran) में खौफ में जी रहे 234 भारतीयों को भारत ले आया गया है. विदेश मंत्री जयशंकर ने बताया कि इस जत्थे में 131 स्टूडेंट और 103 तीर्थ यात्री शामिल हैं. ईरान से वतन वापस आए ये भारतीयों का तीसरा बैच है. इससे पहले शुक्रवार को 44 भारतीयों को ईरान से सकुशल वापस भारत लाया गया था. बता दें कि मोदी सरकार ने कोरोना के चलते विदेशों में फंसे भारतीयों की सकुशल वापसी कराने की बात कही थी.
    विदेश मंत्री जयशंकर ने बताया कि ईरान में फंसे 234 भारतीय भारत पहुंच चुके हैं. इसके लिए जयशंकर ने राजदूत धामु और ईरान सरकार का धन्यवाद किया. कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित होने वाले देशों में ईरान भी शामिल है.
    ईरान में शनिवार को इस खतरनाक वायरस से लगभग 100 लोगों की मौत हो गई. इसके साथ ही वहां का आंकड़ा 700 के करीब पहुंच गया है. देश में लगभग 13 हजार लोग कोरोना से संक्रमित हैं. पश्चिम एशिया में ईरान कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित हुआ है. ईरान के कई वरिष्ठ अधिकारी भी इसकी चपेट में आ चुके हैं. ईरान के शीर्ष नेता खोमैनी के सलाहकार भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे.
    भारत में 106 लोग पॉजिटिव
    कोरोना वायरस का प्रकोप पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत में भी बढ़ रहा है. भारत में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या 107 के पहुंच गई है और वहीं दुनियाभर में यह आंकड़ा 154359 हो गया है. कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में जहां पांच हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं भारत में अब तक इससे दो लोगों की जान जा चुकी है. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के अब तक सबसे अधिक मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र में अब तक कोरोना वायरस के 31 मामलों की पुष्टि हो चुकी है.