पाकिस्तानी आलराउंडर भुखमरी की कगार पर,BCCI से मांगा,कोई भी काम दे दो

0
30225
पाकिस्तान के पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिए ऐसी बात कह डाली जिसकी खिल्ली पूरी क्रिकेट बिरादरी उड़ा रही है। उन्होंने हार्दिक पांड्‍या के जरिए बीसीसीआई से काम की भीख मांग डाली।
जैसे ही यह वीडियो वायरल हुआ, वैसे ही रज्जाक के बारे में यह कहा जाने लगा कि क्या वे इतने कंगाल हो गए हैं कि बीसीसीआई के आगे भीख का कटोरा फैलाने से भी नहीं चूके?
क्या है पूरा मामला? : रज्जाक ने कहा कि मैंने भारत और वेस्टइंडीज के बीच गुरुवार को मैनचेस्टर में हुए वर्ल्ड कप के मैच में हार्दिक पांड्‍या को बैटिंग करते हुए देखा। उनकी बल्लेबाजी में मुझे काफी गलतियां नजर आईं। अगर मैं उन्हें 2 हफ्ते की कोचिंग दे दूं तो वे दुनिया का नंबर 1 हिटर और आर्मर बन सकते हैं। मैं उन्हें दुनिया का नंबर 1 ऑलराउंडर बना सकता हूं।
रज्जाक ने तो जगह भी तय कर दी : अब्दुल रज्जाक काम के इतने भूखे हैं कि उन्होंने जगह भी तय कर दी। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई मेरी सेवाओं को ले सकता है। मैं हार्दिक को दुबई में 2 सप्ताह की ट्रेनिंग दे सकता हूं। चूंकि भारत और पाकिस्तान के रिश्ते अच्छे नहीं हैं, लिहाजा रज्जाक ने न्यूट्रल प्लेस लिए दुबई का नाम सुझाया है।
विश्व कप में धूम मचा रहे हैं हार्दिक : हार्दिक पांड्‍या इंग्लैंड में खेले जा रहे विश्व कप क्रिकेट 2019 में धूम मचा रहे हैं। जिनकी बल्लेबाजी तकनीक पर रज्जाक ने सवाल उठा रहे हैं, उसी हार्दिक ने विश्व कप के 5 मैचों में 142 के स्ट्राइक रेट से 144 रन बनाने के अलावा 5 विकेट भी लिए हैं।
पाकिस्तान ने कभी कोचिंग का प्रस्ताव नहीं दिया :अब्दुल रज्जाक ने वनडे में 265 मैचों में 5,080 रन बनाए और 269 विकेट लिए। उन्होंने 46 टेस्ट मैचों में 1,946 रन के अलावा 100 विकेट भी हासिल किए। वे 32 टी-20 मैच भी खेले हैं। इस ऑलराउंडर को कभी भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने क्रिकेटरों को कोचिंग देने लायक नहीं समझा।
हार्दिक को कोचिंग देने की बात से उड़ा मजाक : अब्दुल रज्जाक के हार्दिक को कोचिंग करने के प्रस्ताव का काफी मजाक उड़ाया जा रहा है। लोगों का कहना है कि उन्हें कोचिंग देने की इतनी ही आतुरता है तो वे पाकिस्तानी क्रिकेटरों को कोचिंग दें।
टीम इंडिया के पास भरपूर स्टाफ : हार्दिक पांड्‍या 4 बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी हैं। उन्हें सब पता है कि क्या करना चाहिए? टीम इंडिया के पास भी चीफ कोच रवि शास्त्री के अलावा सपोर्ट स्टाफ है लिहाजा बीसीसीआई क्यों चाहेगा कि वह रज्जाक सेवाएं ले? वास्तव में रज्जाक ने इस तरह का प्रस्ताव देकर अपनी छवि को काफी गिरा लिया। लग रहा है कि पाकिस्तान का यह क्रिकेटर आर्थिक तंगी का शिकार हो गया है।