Thursday, April 8, 2021
Uncategorized

मुख्तार अंसारी की 9 गम्भीर बीमारी ठीक हो गयी बांदा जेल पहुंचते ही

अंसारी के साथ खास बात यह रही कि उसकी 9 गम्भीर बीमारियों का इलाज बांदा जेल में घुसते ही हो गया।पंजाब में वो चलने फिरने से मजबूर था लेकिन बांदा जेल पहुंचते ही चलने फिरने लगा साथ ही अन्य परेशानियां भी खत्म हो गयी।

पंजाब की रोपड़ जेल में लगभग 12 महीने रहने के बाद गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को यूपी पुलिस बुधवार सुबह बांदा जेल लेकर पहुंची। यहां पर माफिया डॉन अंसारी को अभी तक बैरक नंबर 16 में रखा गया है। बांदा जेल में अंसारी की पहली रात बड़ी ही बेचैनी के साथ कटी। सूत्रों ने बताया कि जेल में अंसारी रातभर करवटें बदलता रहा और आधी रात तक सो भी नहीं पाया। जेल में उसे कोई भी वीआईपी सुविधा नहीं दी गई। उसे आदमी कैदियों की तरह रखा गया और उसका बिस्तर भी जमीन पर लगाया गया। उसने खाने में दोली सी दाल और और सिर्फ एक रोटी ही खाई।

जानकारी मुताबिक गैंगस्टर मुख्तार अंसारी बांदा जेल पहुंचते ही स्वस्थ नजर आया। इसके साथ ही पंजाब मेडिकल बोर्ड की झूठी रिपोर्ट की पोल भी खुल गई जिसमें अंसारी को 9-9 बीमारियों से पीड़ित बताया गया था। क्योंकि पंजाब में व्हीलचेयर पर नजर आने वाला माफिया डॉन बांदा जेल में अपने पैरों पर चलता नजर आया। वहीं डीजी जेल आनंद कुमार ने बताया कि डॉक्टरों की जांच रिपोर्ट में मुख्तार पूरी तरह स्वस्थ्य मिला, उसे किसी तरह की कोई समस्या नहीं है। जेल में मेडिकल कॉलेज बांदा के डॉक्टरों द्वारा उसका स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार शाम को यूपी पुलिस मुख्तार अंसारी को लेकर रोपड़ जेल से निकली थी और बुधवार तड़के करीब साढ़े 4 बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच उसे बांदा जेल लेकर पहुंची। बांदा पहुंचने के बाद उसका कोरोना टेस्ट किया गया जिसके रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उसे बैरक नंबर 15 में शिफ्ट कर दिया गया। वैसे तो मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद है, लेकिन उसकी निगरानी  लखनऊ में हो रही है। जेल की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है।

Leave a Reply