Tuesday, September 21, 2021
Uncategorized

दलित खो खो खिलाड़ी के साथ बलात्कार,फिर हत्या,नाम मोहम्मद शहजाद खान,न राहुल न प्रियंका, न अखिलेश,न मायावती,न भीम आर्मी,देखने नही गए,बयान तक नही

शहजाद ने दलित खो-खो खिलाड़ी की रेप के बाद की हत्या, दाँत भी गायब: ऑडियो क्लिप की मदद से UP पुलिस ने किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश की बिजनौर पुलिस ने राष्ट्रीय स्तर की खो-खो खिलाड़ी की कथित तौर पर हत्या करने के आरोप में मंगलवार (14 सितंबर) को एक शख्स को गिरफ्तार किया। 24 वर्षीय खिलाड़ी का शव बिजनौर के एक रेलवे स्टेशन पर मिला था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने पीड़िता के एक दोस्त द्वारा शेयर किए गए ऑडियो क्लिप की मदद से आरोपित शहजाद उर्फ ​​हदीम को गिरफ्तार किया है। बिजनौर पुलिस आरोपित का नाम शहजाद उर्फ खादिम बता रही है।
पुलिस के मुताबिक, घटना 10 सितंबर की दोपहर करीब 2 बजे की है, जब दलित महिला नौकरी के लिए इंटरव्यू देकर घर लौट रही थी। उसी समय रेलवे स्टेशन पर मजदूरी का काम करने वाले आरोपित शहजाद उर्फ खादिम ने उसे देखा और सीमेंट रेलवे स्लीपरों में खींचकर ले गया। वहाँ उसने महिला के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया।
रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिला उस समय दोस्त के साथ कॉल पर थी। उसने मदद के लिए चिल्लाने की कोशिश की तो आरोपित ने उसके ही दुपट्टे से उसका गला घोंट दिया। इस दौरान महिला के दोस्त ने फोन पर उसके चिल्लाने की आवाज सुन ली। आरोपित महिला को सीमेंट के स्लीपर पर छोड़कर उसका मोबाइल लेकर मौके से फरार हो गया। स्थानीय लोगों ने बाद में पीड़िता को खून से लथपथ पाया और उसका एक दाँत भी गायब है। वहीं महिला के परिवारवालों का आरोप है कि आरोपित ने उनकी बेटी के साथ रेप किया है।
बताया जा रहा है कि आरोपित ने घर पहुँचने के बाद फोन बंद कर दिया था, लेकिन उसकी आखिरी लोकेशन का पता लगाकर पुलिस उसके घर पर पहुँच गई और उसे दबोच लिया। पुलिस ने घटनास्थल से एक जूता और एक शर्ट के दो टूटे बटन भी बरामद किए हैं, जो आरोपित के थे। पुलिस ने बताया कि आरोपित की शर्ट पर खून के धब्बे थे, जिसे बाद में उसकी बीवी ने धो दिया। महिला के दोस्त ने पुलिस को कॉल रिकॉर्डिंग दी है, जिसमें पीड़िता की चीखें साफ-साफ सुनाई दे रही हैं। इस सबूत के आधार पर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस को आरोपित की पीठ पर नाखून के निशान भी मिले हैं जो कथित तौर पर शहजाद से अपने आपको बचाने में पीड़िता ने उसकी पीठ पर दिए होंगे। यह पुष्टि करने के लिए नमूने पोस्टमॉर्टम के लिए भेजे गए हैं कि क्या नाखून के निशान महिला के डीएनए से मेल खाते हैं।
पुलिस के मुताबिक आरोपित शादीशुदा है और उसकी एक बेटी भी है। वह ड्रग एडिक्ट है। रेलवे स्टेशन से सामान चोरी करने के आरोप में उसके खिलाफ स्थानीय पुलिस स्टेशन में चार शिकायतें दर्ज हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामले की जाँच पहले राजकीय रेलवे पुलिस कर रही थी, लेकिन बाद में इसे बिजनौर पुलिस को सौंप दिया गया। पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने इस मामले का खुलासा करने वाली टीम को तीन दिन के भीतर 25,000 रुपए का इनाम देने की घोषणा की है।

 

Leave a Reply