9 करोड़ में बिका लोकसभा टिकट,15 करोड़ से शुरू हुई थी बोली,SBI ac no 31286341829 में पैसे जमा

0
4121
आरएलएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा पर उनके ही खासमखास रहे नेताओं ने उनपर गंभीर आरोप लगाए हैं. आरोप में कहा गया है कि उपेन्द्र कुशवाहा सीट बेचने के लिए अधिक से अधिक सीट लेने के फिराक में रहते हैं. नेताओं ने प्रमाण दिखाते हुए बताया कि उपेन्द्र कुशवाहा ने मोतिहारी सीट 9 करोड रूपये में बेची है.
आरएलएसपी के करीब एक दर्जन नेताओं ने मंगलवार को पटना में उपेन्द्र कुशवाहा के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस कर गंभीर आरोप लगाए. इसकी अगुवाई आरएलएसपी पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष रहे नागमणि कर रहे थे. एक समय  था  जब नागमणि, उपेन्द्र कुशवाहा को बिहार का मुख्यमंत्री बनाना चाहते थे लेकिन अब वो उनके घोर विरोधी हो गए हैं. उनका आरोप है कि उपेन्द्र कुशवाहा ने धोखा दिया है. उन्होंने कहा कि जो शादी करता है वही श्राद्ध भी कराता है. नागमणि ने चुनौती देते हुए कहा कि उपेन्द्र कुशवाहा जहां से भी चुनाव लड़ेंगे वो उनके खिलाफ खड़े होकर उनकी जमानत जब्त कराएंगे.
पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रहे प्रदीप मिश्रा ने प्रमाण सहित उपेन्द्र कुशवाहा पर पैसे लेने का आरोप लगाया. प्रदीप मिश्रा ने कहा कि मोतिहारी सीट से चुनाव लड़ने के लिए हमने कुशवाहा को 90 लाख रूपये दिए थे, लेकिन उन्होंने 15 करोड़ की मांग की थी. प्रदीप मिश्रा ने कहा कि मोतिहारी से टिकट लेने के लिए 45-45 लाख का दो बार ट्रांजेक्शन एसबीआई के खाता संख्या 31286341829 में जमा कराए थे.
प्रदीप मिश्रा ने आऱोप लगाते हुए कि उपेन्द्र कुशवाहा पर हमने अब तक पार्टी चलाने के नाम पर 10 से 15 करोड़ रूपये खर्च किए हैं. इसके बावजूद कुशवाहा ने लोकसभा चुनाव के लिए 15 करोड़ की व्यवस्था करने को कहा तो मैने साफ इंकार कर दिया,और कहा कि इतनी रकम की व्यवस्था मैं नहीं कर सकता हूं. उसके बाद उन्होंने मोतिहारी सीट 9 करोड़ रूपये में आनंद माधव को बेच डाली. आनंद माधव ने एक कंपनी के माध्यम से उन्हें  9 करोड़ रूपये दिए है. प्रदीप मिश्रा ने कहा कि उपेन्द्र कुशवाहा ने केन्द्रीय मंत्री रहते हुए अकूत संपति बनाई है उनकी संपति देश के अलावे दुबई में भी है. इस मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए.