विजय माल्या के बाद अब दूसरे मामा भांजे घोटाले बाज पर मोदी की गाज गिरी

0
830

1. सोनिया मनमनोहन सरकार में लापरवाही से दिए गए कर्ज़ की श्रंखला में  हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी को भगोड़ा घोषित करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।मामा-भांजे की इस जोड़ी पर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 13500 करोड़ रुपये का लोन घोटाला करने का आरोप है। इस मामले का खुलासा होने से पहले ही ये दोनों देश छोड़कर जा चुके थे।

2.

ईडी ने बुधवार को विशेष अदालत में दो अलग-अलग याचिकाएं दाखिल कर भगोड़ा आर्थिक अपराधी अध्यादेश, 2018 के तहत नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को भगोड़ा घोषित करने का नोटिस जारी करने का अनुरोध किया है।

3. कोर्ट में दाखिल याचिका में ईडी ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की चल-अचल संपत्ति को जब्त करने का आदेश जारी करने का भी अनुरोध किया है। जांच एजेंसी का मानना है कि मामा-भांजे की इस जोड़ी ने यह संपत्ति लोन घोटाले के अपराध के जरिए इकट्ठा की है।

4. ईडी ने कोर्ट से अनुरोध किया है कि मोदी और चोकसी की अन्य संपत्तियों को भी जब्त करने का आदेश दिया जाए। एजेंसी के अनुसार उसके अधिकारियों ने मोदी-चोकसी की भारत के अलावा ब्रिटेन एवं संयुक्त अरब अमीरात में भी संपत्तियों की पहचान की है।

5. पंजाब नेशनल बैंक के मुंबई स्थित ब्रैडी हाऊस शाखा में कार्यरत असिस्टेंट मैनेजर गोकुल नाथ शेट्टी से मिलीभगत करके नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने फर्जी लेटर अॉफ अंडरटेकिंग जारी करवाए और उसके आधार पर भारतीय बैंकों की देश-विदेश स्थित शाखाओं से लोन हासिल किए। बाद में इस पैसे को फर्जी कंपनियों के जरिए हड़प लिया। इस मामले के उजागर होने के बाद सीबीआइ ने केस दर्ज कर जांच शुरू की। इसी आधार पर ईडी ने प्रिवेंशन अॉफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत केस दर्ज किया है।