Sunday, November 22, 2020
Uncategorized

1 लाख का इनामी मार गिराया पुलिस ने

पांडेयपुर में महिला को गोली मारने वाले आरोपी मोनू चौहान से रविवार रात करीत साढ़े सात बजे ऐढ़े में पु‍लिस की मुठभेड़ हो गई। पु‍लिस के अनुसार सारनाथ के रिंगरोड पर लालपुर के समीप बाइक सवार बदमाश का पीछा कर रही पुलिस टीम पर उसने फायरिंग कर भागने का प्रयास किया। हालांकि, पुलिस मुठभेड़ में एक लाख का इनामी मोनू गंभीर रूप से घायल हो गया और इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

उत्तर प्रदेश की वाराणसी (Varanasi) पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस एनकाउंटर में एक लाख का ईनामी बदमाश मोनू चौहान (Monu Chauhan) ढेर हो गया है. मोनू सनी सिंह गिरोह का शार्प शूटर बताया जाता है. मुठभेड़ मे घायल होने के बाद बदमाश को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. वहीं एनकाउंटर के दौरान मोनू चौहान ने पुलिसकर्मियों पर गोली चलाते हुए भागने की कोशिश की जिससे चौकी प्रभारी और सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, घायलों का अस्पताल में इलाज कराया जा रहा है.

बता दें कि मोनू चौहान बीते सप्ताह घड़ी व्यवसायी व लालपुर में प्रेमा देवी के घर में घुसकर गोली मारने के मामले में वांछित था. दरअसल, आज देर शाम को क्राइम ब्रांच प्रभारी निरीक्षक अश्विनी पाण्डेय और लालपुर पुलिस को सूचना मिली कि एक लाख का ईनामी मोनू चौहान इस वक्त रिंग रोड पर मौजूद है. जिसके बाद क्राइम ब्रांच व पुलिस ने घेराबंदी की इस दौरान दोनों तरफ से गोलियां चली है. वही मुठभेड़ की सूचना मिलते ही मौके पर एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी ने भी मोर्चा संभाल लिया.

जानकारी के मुताबिक सारनाथ के रिंगरोड पर लालपुर के समीप मोनू चौहान ने पुलिस को देखकर फायरिंग की. जिसमे दोनो तरफ से हुई जवाबी कारवाई में एक लाख का इनामी मोनू चौहान समेत चौकी प्रभारी पाण्डेयपुर राजकुमार पाण्डेय व क्राइम ब्रांच के सिपाही विनय सिंह घायल हो गए. घायल अवस्था में बदमाश को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. वहीं एनकाउंटर में घायल चौकी प्रभारी व सिपाही का ईलाज चल रहा है, दोनों खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं.

 

Leave a Reply