5 करोड़ में टिकट,गम्भीर आरोप

191
हरियाणा कांग्रेस के अंदर चल रही अंदरुनी कलह की आग अब पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की चौखट तक पहुंच गई है. हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रमुख अशोक तंवर बुधवार दोपहर 3 बजे नई दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय के सामने धरना-प्रदर्शन करने पर उतर आए. यही नहीं उन्होंने हरियाणा की सोहना विधानसभा सीट को 5 करोड़ रुपए में बेचने का आरोप भी लगाया.
तंवर राज्य में हुए टिकट के बंटवारे से नाराज हैं. उन्होंने कहा कि, ‘बीते पांच सालों में जिन्होंने पार्टी के लिए काम किया उन्हें टिकट बंटवारे के दौरान अनदेखा किया गया. जिन्होंने पार्टी के खिलाफ काम किया उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने तवज्जो दी है.’
हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर बुधवार को दिल्ली स्थित पार्टी हेडक्वार्टर के सामने अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए. उन्होंने टिकट बंटवारे में पार्टी के नेताओं पर धांधली करने का आरोप लगाया है.
हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Haryana Assembly Election 2019) से पहले हरियाणा कांग्रेस (Congress) में चल रही अंदरूनी कलह बुधवार को खुलकर सामने आ गई. विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की टिकटों को लेकर दिल्ली (Delhi) में जमकर बवाल हुआ. पूर्व हरियाणा (Haryana) कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर (Ashok Tanwar) ने हरियाणा में कांग्रेस की टिकट 5 करोड़ में बेचने के आरोप लगाया. 10 जनपथ के बाहर अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए अशोक तंवर ने कहा कि टिकट का बंटवारा पैसे के आधार पर हो रहा है. हरियाणा कांग्रेस में 5 करोड़ लेकर टिकट दिया जा रहा है.

अशोक तंवर  ने कहा कि पार्टी ने सोहना विधानसभा सीट (Sohna assembly) की टिकट पांच करोड़ रुपये में बेच दी है. उन्होंने कहा कि अगर टिकट बंटवारे में पारदर्शिता नहीं होगी तो चुनाव में जीत कैसे होगी.

बता दें, विधानसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी ने अशोक तंवर को राज्य कांग्रेस अध्यक्ष की गद्दी से हटा दिया था. कहा जा रहा था कि पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यह फैसला पार्टी के अंदरूनी विवाद को देखते हुए लिया था. अब हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर बागी मुद्रा में हैं. बुधवार को अशोक तंवर सहति बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और पार्टी पदाधिकारियों ने सोनिया गांधी के घर के बाहर प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की.

अशोक तंवर ने सोना सीट पांच करोड़ रुपये में बेचने का आरोप लगाया
दिल्ली में टिकट को लेकर मंथन

कांग्रेस भी टिकट को लेकर पेशोपेश में साफ नजर आ रही है. चौ. दुड़ाराम के भाजपा मे जाने के बाद माना जा रहा था कि पूर्व सीपीएस प्रहलाद सिंह गिलाखेड़ा का रास्ता साफ हो गया है, मगर दिल्ली में टिकट को लेकर मंथन करने के दौरान जो कुछ हुआ उससे लगता है कि कांग्रेस की राह भी फतेहाबाद में आसान नहीं हैं. प्रहलाद सिंह गिलाखेड़ा पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खासमखास माने जाते हैं, इसलिए हुड्डा गुटा का सॉफ्ट कार्नर उनके साथ हो सकता है.
यह हैं वो नाम जिन्हें पहली लिस्ट में मिल सकता है मौका
सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली लिस्ट पूरी तरह से तैयार है. अब अगर इंतजार है तो सिर्फ इसका कि रस्साकशी वाले दो-चार नाम कब शामिल करने हैं. लेकिन कुछ नाम ऐसे भी हैं जिनके पहली लिस्ट में ही सामने आने की चर्चाएं हो रही हैं. उनमें शामिल हैं- भूपेंद्र सिंह हुड्डा, रणदीप सिंह सुरजेवाला, किरण चौधरी, कुलदीप बिश्नोई, हरमोहिंद्र सिंह चट्ठा, फूलचंद मुलाना, अजय सिंह यादव, डॉ रघुबीर सिंह कादियान, कुलदीप शर्मा, महेंद्र प्रताप सिंह, आनंद सिंह दांगी, कर्ण सिंह दलाल, सावित्री जिंदल.