Thursday, September 22, 2022
Uncategorized

हत्यारा निकला मोहम्मद नदीम खान

गाजियाबाद। नंदग्राम थाना क्षेत्र के आश्रम रोड पर महिला आशा देवी की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। महिला के प्रेमी नदीम ने ही कुल्हाड़ी से गला काटकर हत्या कर दी थी। आरोपित ने मुरादनगर गंग नहर में हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी को फेंक दिया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

सीओ सिटी द्वितीय आलोक दूबे ने बताया कि पकड़ा गया आरोपित मुरादाबाद के कटघर का नदीम है। एक साल पूर्व वह मुरादनगर में जूस की दुकान करता था। इस दौरान एक परिचित के माध्यम से उसकी मुलाकात आशा देवी उर्फ सुमन से हो गई थी। आशा की ससुराल बुलंदशहर में है। वह काफी दिनों से पति से अलग रहती है। उसके तीन बच्चे हैं, जो पति के साथ रहते हैं। उसने नंदग्राम के आश्रम रोड की गली नंबर छह में किराये का कमरा ले रखा है। आशा और नदीम में करीबी हुई और दोनों पिछले एक साल से संबंधों में थे। नदीम उससे मिलने आता रहता था।

कुछ समय पूर्व आशा की नंदग्राम के एक युवक से दोस्ती हो गई थी। नदीम ने कई बार आशा को फोन मिलाया तो उस युवक ने फोन उठाया। इस पर नदीम और आशा के बीच कई बार विवाद भी हुआ था। नदीम को शक था कि आशा और युवक के बीच अवैध संबंध हैं।

नंदग्राम थाना प्रभारी रमेश सिंह सिद्धू ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि नदीम शुक्रवार रात जब आशा से मिलने आया तो वह बैग में कुल्हाड़ी और एक जोड़ी कपड़े साथ में लाया था। सुबह तीन बजे नदीम ने आशा के सिर पर कुल्हाड़ी से वार किया तो वह बेड से नीचे गिर गई। इसके बाद उसने उसकी कमर पर कुल्हाड़ी मारी। उसके मरने के बाद नदीम ने खून में सने अपने कपड़े बदले और सुबह होने का इंतजार किया। दिन निकलने पर करीब पांच बजे वह अपने बैग में कुल्हाड़ी, खून में सने कपड़े, आशा का मोबाइल और उसे दिए हुए गहने लेकर फरार हो गया।

इसके बाद उसने राजनगर एक्सटेंशन रोड के पास एक मंदिर के बराबर में झाड़ियों में उसने कपड़े छिपाए। कुल्हाड़ी व मोबाइल फोन तोड़कर उसने मुरादनगर गंगनहर में फेंक दिया और पहले वह मेरठ और बाद में मुरादाबाद चला गया।

Leave a Reply