Saturday, May 14, 2022
Uncategorized

(LIVE VIDEO) गाय लूट कर भाग रहे,मोहम्मद जीशान, मोहम्मद सद्दाम और मोहम्मद कासिम को गोली मारी,तीनो लँगड़े हुए

गाजियाबाद। जनपद में अपराधियों पर नकेल कसने के लिए पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया हुआ है। चेकिंग अभियान के दौरान विजयनगर इलाके में पुलिस और गौ तस्करों की मुठभेड़ हुई है। मुठभेड़ के बाद पुलिस ने तीन गौ तस्करों को गिरफ्तार किया है। एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि जल निगम चौकी क्षेत्र अंतर्गत पुलिस चेकिंग कर रही थी, तभी पुलिस को सूचना मिली कि एक सिल्वर कलर की स्कॉर्पियो गाड़ी में सवार अभियुक्त राह चलते व्यक्ति की गाय हथियार के बल पर छीनकर गाड़ी में लादकर ले जा रहे है। पुलिस ने चेकिंग के दौरान स्कोर्पियो गाड़ी को रुकने का इशारा किया तो गाड़ी सवार अभियुक्त नही रूके और गाड़ी लेकर भागने लगे। पुलिस ने तुरंत वायरलेस पर सूचना फलैश कर के गाड़ी सवार अभियुक्तों की घेराबंदी शुरू कर दी। पुलिस से भागते हुए अभियुक्तों की गाड़ी अनियंत्रित हो गई और मिलिट्री ग्राउंड में शीशम के पेड़ से टकरा गई। अभियुक्तों ने खुद को घिरता देख गाड़ी से उतर कर पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें पुलिस का सिपाही दीपक घायल हो गया।

पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग कि जिसमें जीशान, सद्दाम और कासिम को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ में तीनों के पैर में गोली लगी है। जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गौ तस्करों की निशानदेही पर पुलिस ने तीन तमन्चे, तीन खोखे, पांच जिन्दा कारतूस, एक स्कॉर्पियो कार और एक जिंदा गाय बरामद हुई है। पुलिस ने गाड़ी की तलाशी में एक नशे की दवा की शीशी, पशुओं को बांधने के लिए रास्सा, एक कुल्हाड़ी, तीन छुरी और खाली बोरे बरामद किए है। एसपी सिटी ने यह भी बताया कि पकड़े गए तीन गौ तस्करों के खिलाफ विभिन्न थानों में कई मुकदमे दर्ज है।

इंजेक्शन, कुल्हाड़ी और तमंचा लेकर गौतस्करी करने वाले जीशान, कासिम, सद्दाम हुए गिरफ्तार: UP पुलिस से मुठभेड़ के बाद लंगड़ाते पहुँचे अस्पताल, Video

UP के गाजियाबाद (Ghaziabad) जिले में गौ तस्करों की पुलिस से मुठभेड़ (Encounter) हुई है। इस मुठभेड़ में जीशान, सद्दाम और कासिम नाम के 3 गौ तस्कर घायल हुए हैं। बाद में इन तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुठभेड़ के दौरान पुलिस का एक कांस्टेबल भी घायल हुआ है। घटना 11 – 12 मई 2022 (बुधवार) रात की है। सभी गौ तस्कर पुराने अपराधी बताए जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर वीडियो सामने आई है जिसमें घायल गौतस्करों को लंगड़ाते और कहारते हुए देखा जा सकता है।

गाजियाबाद पुलिस के SP सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया, “थाना विजयनगर की जल निगम पुलिस चौकी पर चेकिंग की जा रही थी। उसी दौरान पुलिस को सिल्वर कलर की स्कार्पिओ में एक गाय के बँधे होने की सूचना मिली। साथ ही स्कार्पिओ में गौ तस्करों की भी मौजूदगी का पता चला। पुलिस ने तस्करों का पीछा किया। इस दौरान अनियंत्रित हो कर तस्करों का वाहन एक पेड़ से टकरा गया। पुलिस ने उन सभी को घेर कर आत्मसमर्पण कर को कहा।”

SP सिटी ने आगे बताया, “पुलिस द्वारा सरेंडर के प्रस्ताव को ठुकरा कर तस्करों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस का एक कॉन्स्टेबल घायल हो गया। जवाब में पुलिस ने भी आत्मरक्षा में गोली चलाई जो तीनों गौ तस्करों को लगी। गौ तस्कर जीशान मेरठ के फलावदा का रहने वाला है। जबकि बाकी 2 अन्य सद्दाम और कासिम गाजियाबाद के मुरादनगर क्षेत्र के रहने वाले हैं। इन सभी पर गौ हत्या के 7 – 8 मुकदमे हैं। इनके पास से बेहोश करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला इंजेक्श, कुल्हाड़ी, तमंचे, चाकू, रस्सी के साथ एक गाय भी बरामद हुई है। आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है।”

मुठभेड़ के बाद घायल आरोपित (चित्र साभार – गाजियाबाद पुलिस)

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरोपितों के पास से गाय को सुरक्षित बचा लिया गया है। गाय को एक स्थानीय गौशाला में भेज दिया गया है। घायल तीनों आरोपितों का इलाज करवाया जा रहा है। तस्करी में प्रयोग होने वाली स्कार्पिओ को भी जब्त कर लिया गया है। घायल कांस्टेबल का नाम दीपक कुमार है जिनकी हालात फिलहाल सामान्य है। बताया जा रहा है कि कुछ समय पहले गाजियाबाद के ही हिंडन विहार इलाके में गौ वंश के अवशेष मिले थे। इसके बाद हिन्दू संगठनों ने हंगामा किया था। तब से पुलिस गौ तस्करों के खिलाफ विशेष अभियान चला रही थी। उसी अभियान के दौरान पुलिस को ये सफलता मिली है।

Leave a Reply