BREAKING NEWS : दिल्ली से एक फोन 30 सेकेंड का,संजय राउत ने माफी मांगी,उद्धव ठाकरे के तोते उड़े,

139
दिल्ली से सिर्फ एक फोन आया 30 सेकेंड का उद्धव ठाकरे संजय राउत से लेकर सारे नेता सांस रोके माफी मांगने लगे।
संजय राउत समेत उद्धव ठाकरे को मुंह की खानी पड़ी है,बाहर से बैठ कर बयानबाज़ी और सत्ता में रह कर साझीदार को सम्हालने का फर्क पता पड़ गया है।
इंदिरा गांधी से जुड़े बयान पर संजय राउत का यू-टर्न, कहा- मैं माफी मांगता हूंकांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा और संजय निरुपम ने गुरुवार को शिवसेना सांसद संजय राउत से पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी पर की गई उनकी कथित टिप्पणी वापस लेने को कहा था.
 इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) पर दिये एक विवादित बयान को शिवसेना (Shiv sena) सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने वापस ले लिया है. उन्होंने कहा, ‘अगर मेरे बयान से कोई भी आहत हुआ है तो मैं माफी मांगता हूं. मैंने हमेशा कांग्रेस के नेताओं का समर्थन किया है.’
कांग्रेस की आपत्ति पर संजय राउत ने कहा, ‘मैंने हमेशा इंदिरा गांधी, पंडित नेहरू, राजीव गांधी और गांधी परिवार के प्रति जो सम्मान दिखाया, वह विपक्ष में होने के बावजूद किसी ने नहीं किया. जब भी लोगों ने इंदिरा गांधी पर निशाना साधा है, मैं उनके लिए खड़ा हुआ हूं.’
बता दें कि एक कार्यक्रम में राज्यसभा सदस्य राउत ने बुधवार को दावा किया था कि इंदिरा गांधी करीम लाला से मुंबई में मुलाकात करती थीं. करीम लाला, मस्तान मिर्जा उर्फ हाजी मस्तान और वरदराजन मुदलियार मुंबई के बड़े माफिया सरगना थे, जो 1960 से लेकर अस्सी के दशक तक सक्रिय रहे.
मिलिंद देवड़ा ने जताई आपत्ति
कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा और संजय निरुपम ने इस बयान पर आपत्ति जताई थी. देवड़ा ने कहा कि नेताओं को उन प्रधानमंत्रियों की विरासत गलत तरीके से पेश करने से बचना चाहिए, जो अब इस दुनिया में नहीं हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ‘इंदिरा जी एक सच्ची देशभक्त थीं, जिन्होंने कभी भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता नहीं किया.’ देवड़ा ने कहा, ‘कांग्रेस की मुंबई इकाई का पूर्व अध्यक्ष होने के नाते मैं संजय राउत जी से उनके गलत बयान को वापस लेने का अनुरोध करता हूं. राजनेताओं को दिवंगत प्रधानमंत्रियों की विरासत को गलत तरीके से पेश करने से बचना चाहिए.’
संजय निरुपम ने बताया- ‘मिस्टर शायर’
मुंबई कांग्रेस के एक और पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा कि राउत ने गांधी के खिलाफ अगर ‘झूठा अभियान’ जारी रखा तो उन्हें ‘पछताना’ पड़ेगा. राउत द्वारा ट्विटर पर अक्सर दूसरों की कविताएं साझा किए जाने का संदर्भ देते हुए निरुपम ने ट्वीट किया, ‘बेहतर होगा कि शिवसेना के मिस्टर शायर दूसरों की हल्की-फुल्की शायरी-कविताएं सुनाकर महाराष्ट्र का मनोरंजन करते रहें. पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार करेंगे तो उन्हें पछताना पड़ेगा. कल उन्होंने इंदिरा गांधी के बारे में जो बयान दिया है वह उन्हें वापस लेना चाहिए.’