Saturday, September 19, 2020
Uncategorized

कमलनाथ ने शिवराज सिंह को कहा नालायक,कैलाश विजयवर्गीय ने पूछा नालायक वो जो 10 दिन की घोषणा कर गया या कोई और

कमलनाथ के बयान पर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने पलट वार किया है,कैलाश विजयवर्गीय ने पूछा नालायक कौन है वो जो 10 दिन की घोषणा कर गया था या की गई घोषणा पर सवाल पूछने वाला।ज्ञात रहे कमलनाथ ने शिवराज सिंह को परोक्ष रूप से नालायक कह कर सम्बोधित किया था।

सीएम कमलनाथ 2 दिवसीय ग्वालियर चंबल दौरे पर हैं। इस दौरान सीएम शिवराज सिंह पर निशाना साधते हुए वे इतने जोश में आ गए कि राजनीति की मर्यादाओं को ही भूल गए। मीडिया से चर्चा के दौरान एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने सीएम शिवराज सिंह को नालायक कह दिया।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर तंज कसते हुये राजनीति की मर्यादाओं को ताक पर रख दिया। उन्होंने व्यंग करते हुए कहा कि शिवराज तो चुनाव के समय दोनों जेबों में नारियल लेकर घूमते हैं, जहां मौका मिला शिलान्यास-भूमिपूजन कर दिया। कमलनाथ ने सवाल करते हुए कहा कि शिवराज सिंह ने आरोप लगाए थे कि कांग्रेस सरकार ने राहुल गांधी के वचन के अनुसार 10 दिन में कर्ज माफ नहीं किया। लेकिन शिवराज सिंह इतने नालायक तो नहीं है! (अर्थात इतने नालायक हैं कि यह भी नहीं जानते कि कर्ज माफी की प्रक्रिया कितने दिन में पूरी की जा सकती है)।
कमलनाथ ने मध्यप्रदेश की पहचान पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की पहचान भ्रष्टाचार से है, अपराध से है। कमलनाथ की सफाई, जो पात्र नहीं थे उनका कर्जा नहीं हुआ माफ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दावा किया कि मैंने 26 लाख किसानों का कर्ज माफ किया। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज और भाजपा किसानों के कर्ज के बारे में बात नहीं बकवास करते हैं, लेकिन कई किसान आयकर दाता निकले और 7 लाख किसानों के एक से ज्यादा खाते निकले। कमलनाथ ने सफाई दी कि जो पात्र नहीं थे, डिफाल्टर्स थे उनके कर्जे माफ नहीं किए गए।

यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगा- कमलनाथ
कमलनाथ ने चिंता ज़ताई कि हमारा संविधान और प्रजातंत्र दांव पर लगा है। यह चुनाव मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेंगे। उन्होंने सवाल उठाया कि जो मुझसे 15 महीने का हिसाब मांगते हैं उन्होंने कभी अपने 15 साल का हिसाब दिया। मध्यप्रदेश में निवेश इसलिए नहीं आता क्यों कि यहां अपराध और भ्रष्टाचार का माहौल है। चार राज्यों से घिरे प्रदेश में बहुत संभावनाएं है, लेकिन सही मंशा और योजना से प्रयास नहीं हुए। कमलनाथ ने कहा कि चीन-पाकिस्तान से युद्ध तभी क्यों जब चुनाव मध्यप्रदेश में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस बात पर शंका जताई कि जब भी लोकसभा, विधानसभा या कोई उप चुनाव होता है, पाकिस्तान और चीन से देश को संकट उपस्थित हो जाता है।

Leave a Reply