Sunday, August 1, 2021
Uncategorized

7 लाख के वांटेड के साथ पकड़ाई ये लेडी डॉन, कुख्यात आनंदपाल को बनाया था दुर्दांत

आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद लेडी डॉन अनुराधा वांटेड लॉरेंस विश्नोई के जरिए कुख्यात काला जठेडी के संपर्क में आई और राजस्थान छोड़कर जठेडी के साथ ही रहने लगी। गैंगस्टर जठेडी पर दिल्ली-हरियाणा पुलिस ने कुल 6 लाख रुपए का ईनाम घोषित कर रखा था। वहीं राजस्थान में अजमेर रेंज आइजी एस सेंगाथिर ने लेडी डॉन पर 10 हजार रुपए का ईनाम घोषित कर रखा। लेडी डॉन अनुराधा पिछले 9 महीने से काला जेठड़ी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थी।
ये है मोस्ट वांटेड लेडी डॉन: जो फर्राटेदार बोलती अंग्रेजी..करोड़ों का बिजनेस छोड़ चलाने लगी एके-47

जयपुर. राजस्थान में लेडी डॉन से मशहूर अनुराधा चौधरी उर्फ अनुराग उर्फ मैडम मिंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से कई हथियारों को भी बरामद किया है। उस पर राजस्तान पुलिस के साथ-साथ दिल्ली पुलिस ने भी इनाम घोषित कर रखा था। वह कई बड़े गैंगस्टरों की गर्लफ्रेंड रह चुकी है। फिलहाल वो कुख्यात बदमाश काला जठेड़ी के साथ लिव इन में रही थी। साथ ही पूरी गैंग को खुद ऑपरेट करती थी। आइए जानते हैं आखिर अनुराधा चौधरी कैसे बन गई लेडी डॉन…

 

लेडी डॉन अनुराधा कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल की गर्लफ्रेंड रह चुकी है।

लेडी डॉन अनुराधा कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल की गर्लफ्रेंड रह चुकी है।

दरअसल, लेडी डॉन के खिलाफ राजस्थान के अलावा दिल्ली-हरियाणां में रंगदारी मांगने, हत्या के प्रयास व लूट समेत कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। वह राजस्थान के खतरनाक गैंगस्टर रहे आनंदपाल गैंग से सबसे पहले जुड़ी थी। वहीं से उसने क्राइम की बारिकियां सीखीं थीं। बताया जाता है कि वह आनंदपाल की प्रेमिका भी रह चुकी है।

लेडी डॉन अनुराधा मूल रूप से सीकर की रहने वाली है।

लेडी डॉन अनुराधा मूल रूप से सीकर की रहने वाली है।

अनुराधा चौधरी ने को आनंदपाल ने शार्प शूटर बनाया था। अनुराधा किडनैप करने में एक्सपर्ट मानी जाती है। आनंदपाल गैंग में उसे मैडम मिंज नाम से जाना जाता था। एके 47 जैसे अत्याधुनिक हथियार चलाने में वह बेहद माहिर मानी जाती है।

लेडी डॉन का अनुराधा के घर का नाम मिंटू है।

लेडी डॉन का अनुराधा के घर का नाम मिंटू है।

बता दें कि जब साल 2017 में पुलिस मुठभेड़ में आनंदपाल मारा गया तो होने पर उसने आनंदपाल गिरोह की कमान संभाल ली थी। इतना ही नहीं जब आंदनपाल जेल गया था तो उसको भी जेल से छुटाने की पूरी कोशिश की थी। आनंदपाल की मौत के बाद गिरोह की कमान संभालने लगी।

अनुराधा मूल रूप से राजस्थान के सीकर की रहने वाली है। उसका घर का नाम मिंटू है, बचपन में ही उसकी मां का निधन हो गया। किसी तरह उसने अपने स्कूली पढ़ाई की। फिर पिता रोटी रोटी के लिए दिल्ली काम करने के लिए चले गए। इसके बाद वह सीकर के ही  फैलिक्स दीपक मिंज से प्यार करने लगी और उससे लव मैरिज कर ली।

लेडी डॉन अनुराधा और गैंगस्टर काला जठेड़ी के साथ दिल्ली पुलिस गिरफ्तार करती हुई।

लेडी डॉन अनुराधा और गैंगस्टर काला जठेड़ी के साथ दिल्ली पुलिस गिरफ्तार करती हुई।

अपराध की दुनिया मे माहिर अनुराधा पढ़ाई-लिखाई में भी बहुत तेज तर्रार रही है। उसने बीसीए में स्नातक की डिग्री हासिल की हुई है। अंग्रेजी तो वह इस तरह बोलती है जैसे कि वह कोई ऑफिसर हो। वह अपराध की दुनिया में शादी के बाद जुड़ी। शादी के बाद वह सीकर आकर रहने लगी और पति के शेयर बाजार में हाथ बटाते हुए मदद करने लगी।

दिल्ली पुलिस की हिरासत में गैंगस्टर काला जठेड़ी।

दिल्ली पुलिस की हिरासत में गैंगस्टर काला जठेड़ी।

शेयर मार्केट के दौरान पति को करोड़ों रुपए का घाटा हो गया,  क्योंकि लोगों ने उनके पैसे जो नहीं लौटाए थे। बताया जाता कि जब लोगों ने उनका पैसा नहीं लैटाया तो उसने राजस्थान के नामी गैंगस्टर आनंदपाल से जान-पहचान की।  इसके बाद उसकी दोस्ती आनंदपाल से गहरी होती गई। फिर उसने पति का साथ छोड़ दिया और उसकी गैंग में शामिल हो गई।

Leave a Reply