Wednesday, October 20, 2021
Uncategorized

दलित लड़की को नोचता रहा फ़िरोज़ मोहम्मद, खुद का नाम बताया पण्डित राजेश शर्मा

मध्य प्रदेश से सामने आया है. बताया जा रहा है कि राजेश बनकर एक मुसलमान लड़के ने जिसका वास्तविक नाम फिरोज था उसने शादी का झांसा देकर अनुसूचित जाति की एक नाबालिग का एक साल तक शोषण किया. नाबालिग की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ लव जिहाद, एससीएसटी, पास्को एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है. फिलहाल आरोपी फिरोज व उसका एक अन्य साथी फरार है.

एसडीओपी सुसनेर एन एस रावत ने बताया कि सोमवार की रात नलखेड़ा निवासी अनुसूचित जाति की नाबालिग अपनी माता के साथ पुलिस थाने पहुंची थी. जहां उसने बताया कि पिछले एक साल से राजेश शर्मा के नाम का एक लड़का प्यार व शादी का झांसा देकर उसका शारीरिक शोषण कर रहा था.

फोन पर सलाम वालेकुम कहा तो खुली पोल पीड़िता ने पुलिस को बताया कि सोमवार की रात लगभग 8:30 वह अपने घर के सामने एक डेयरी पर दूध लेने जा रही थी, तभी आरोपी एक अज्ञात युवक मोटरसाइकिल पर आए और उसे अपने साथ चलने का बोला. नाबालिक उनके साथ चली गई, तभी रास्ते में उसके मोबाइल पर एक फोन आया. आरोपी ने फोन उठाया और सलाम वालेकुम बोला. जिसे सुनते ही पीड़िता ने उससे उसका धर्म पूछा जिसपर उसने बताया की उसका असली नाम फिरोज चने वाला है.

यह सुनते ही नाबालिग के होश उड़ गए और उससे वापस घर छोड़ देने का बोला. पीड़िता का कहना है कि इस पर दोनों ने उसके साथ जबरदस्ती करने का प्रयास किया और मारपीट की. वह चिल्लाई और आवाज सुनकर सड़क से जा रहे एक अन्य मोटरसाकिल पर सवार तीन लोग रुके. जिन्हें देखकर दोनों आरोपी भाग गए. उन तीनों राहगीरों ने पीड़िता को उसके मामा के घर छोड़ा, जहां से वह मां के साथ रिपोर्ट लिखवाने पुलिस थाने पर पहुंची. पीड़िता का कहना है कि आरोपी ने एक साल पहले उसे एक मोबाइल भी दिया था. जिससे वह उससे बात किया करती थी, लेकिन सोमवार की रात आरोपियों ने वह फोन छीन लिया।

Leave a Reply