Monday, November 23, 2020
Uncategorized

लव जिहाद पर 10 साल की सज़ा,वेब सीरीज की गन्दगी लव जिहाद की भी बर्दाश्त नही

लव जिहाद के लिए किए जाने वाले धर्मांतरण को लेकर मध्य प्रदेश में और अधिक कड़े कानून की मांग तेज हो गई है। अभी इस मामले में पांच साल की सजा की बात कही जा रही थी, लेकिन यह सजा दस साल तक हो सकती है। मध्य प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा के बयान से यह लगभग तय होने लगा है कि विधेयक में सजा की अवधि बढ़ सकती है। शर्मा ने कानून में दस साल तक की सजा का प्रविधान करने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स पर आ रहे वेब सीरीज ए सूटेबल बॉय को लेकर विवाद शुरू हो गया है। इस फिल्म में चुंबन वाले दृश्य को लेकर बीजेपी नेता ने रीवा में शिकायत दर्ज कराई है। साथ ही कहा है कि इससे हिंदू भावनाएं आहत हुई हैं। बीजेपी नेता की शिकायत के बाद गृह मंत्री ने भी अधिकारियों को कंटेट देखने के निर्देश दिए हैं।


इस वेब सीरीज में ईशान खट्टर और तब्बू के बीच में रोमांस को दिखाया गया है। ईशान फिल्म में मान कपूर और तब्बू सईदा कपूर की किरदार निभा रही हैं। इसकी शूटिंग महेश्वर घाट पर हुई है। महेश्वर घाट को रानी अहिल्याबाई होल्कर शिवभक्तों को समर्पित किया था। इसे देखने के लिए विदेशों से भी खूब श्रद्दालु आते हैं। सीरीज में अंतरजातीय प्यार को दिखाया गया है। बीजेपी नेता गौरव तिवारी का आरोप है कि इसमें लव जिहाद को बढ़ावा दिया गया है।
बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ता गौरव तिवारी ने कहा है कि मंदिर का प्रांगण, बैकग्राउंड में आरती और अश्लील दृश्य। क्या मस्जिद में अजान के समय ऐसा शूट करने की क्रीएटिव फ्रीडम है आपको नेटफ्लिक्स। हिंदुओं की सहिष्णुता को उनकी कमजोरी मत समझिए, ये एमपी का नहीं, भगवान शिव और करोड़ों शिवभक्तों का भी अपमान है। माफी मांगनी पड़ेगी।
गौरव तिवारी ने कहा कि रानी अहिल्याबाई होल्कर ने महेश्वर घाट को शिवभक्तों के लिए समर्पित किया। पाषाण युग के हजारों शिवलिंग उसकी पहचान है। पर नेटप्लिक्स इंडिया इस पावन धरा का उपयोग लव जिहाद को बढ़ावा देने और हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए कर रहा है। आज मैं अपने फोन से इसे हटा रहा हूं।
गृह मंत्री ने कंटेट देखने के निर्देश दिए
बीजेपी नेता की शिकायत पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि एक ओटीटी मीडिया प्लेटफॉर्म पर ए शूटेबल बॉय नामक फिल्म जारी की गई है। इसमें बेहद आपत्तिजनक दृश्य दिखाए गए हैं जो एक धर्म विशेष की भावनाओं को आहत करते हैं। मैंने पुलिस अधिकारियों को इस विवादास्पद कंटेंट का परीक्षण कराने को निर्देशित किया है।

 

Leave a Reply