मध्यप्रदेश कांग्रेस में महिला प्रवक्ता को अपमान का घूंट उबल पड़ा

0
653

प्रेस कांफ्रेंस लेने से पहले छोटे सिंधिया उर्फ ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मध्यप्रदेश कांग्रेस की प्रवक्ता नूरी खान को मंच से उतार दिया था वहीं चुनाव हारे विधायक प्रत्याशी को मंच पर बैठाए रखा था।मध्य प्रदेश कांग्रेस की प्रवक्ता नूरी खान ने एक बार फिर अपनी ही पार्टी के नेता को कठघरे में खड़ा किया है. अबकी बार नूरी खान ने फेसबुक पर एक पोस्ट कर उज्जैन से ही कांग्रेस के पूर्व विधायक को उनकी हैसियत बताने की चेतावनी दी है.

आपको बता दें कि नूरी खान उस वक्त चर्चा में आईं थीं जब उन्होंने कांग्रेस सांसद और एमपी कांग्रेस के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ राहुल गांधी को हाल ही में चिठ्ठी लिखी थी. उन्होंने चिट्ठी में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मंच से नीचे उतारने को अपना अपमान बताया था.

इसके बाद अब सोमवार को नूरी खान ने अपने फेसबुक पेज पर एक और तल्ख टिप्पणी की है और उज्जैन से ही कांग्रेस के पूर्व विधायक को उनकी हैसियत बताने की चेतावनी दी है. नूरी खान ने लिखा है कि ‘मैने स्वयं के व्यवहार पर खेद व्यक्त करते हुए माफी मांगी है, किसी ओर के व्यवहार पर नहीं. कुछ पूर्व विधायकों को अवगत करवा दूं कि भाजपा के संरक्षण में आपके अवैध उत्खनन और अवैध कब्जे चल रहे हैं, इसलिए 10 सालों में जनता हित की आवाज नहीं उठा पाई. यहां मुझे भाजपा से लड़ते हुए कोर्ट से 6 महीने की सजा तक मिली है. नूरी खान ने लिखा कि जो वक्तव्य आपने दिया है, वक्त आने पर मैं अपनी हैसियत भी बता दूंगी और ये भी याद दिला दूंगी कि एक पूर्व विधायक की औकात और हैसियत क्या होती है. मेरी शराफत को मेरी मुर्दारी समझने की जरूरत नहीं है.’ नूरी खान ने बताया कि उनका इशारा उज्जैन से कांग्रेस के पूर्व विधायक रहे राजेंद्र भारती की ओर था.

नूरी खान ने बताया कि सिंधिया प्रकरण के बाद उन्होंने माफी मांग ली थी लेकिन इसके बाद भी स्थानीय अखबारों में राजेंद्र भारती की तरफ से उन्हें लेकर जो बयान छापे गए हैं, वो आपत्तिजनक हैं. नूरी ने कहा कि भारती जब सार्वजनिक रूप से उनके बारे में बोल रहे हैं तो उन्होंने भी अपना बयान सार्वजनिक रूप से सोशल मीडिया पर ही पोस्ट कर दिया. नूरी के मुताबिक पूर्व विधायक ने उन पर बीजेपी का एजेंट होने के गंभीर आरोप लगाए जबकि वो शुरू से ही बीजेपी की मुखालफत करती आई हैं.
नूरी खान के पोस्ट के बारे में जब आजतक ने पूर्व विधायक राजेंद्र भारती से बात की तो उन्होंने इसे पब्लिसिटी स्टंट बताया. भारती ने फोन पर कहा कि हर किसी का काम करने का अपना तरीका होता है. किसी- किसी को बेहद कम समय में पब्लिसिटी चाहिए होती है और वो इसमें पारंगत हैं. भारती ने कहा कि ये बहुत गंभीर विषय है. कांग्रेस को आज हर चीज पर संघर्ष करना पड़ रहा है और इस तरह के बयानों से पार्टी का नुकसान है या फायदा कार्यकर्ता इसका स्वयं आकलन कर सकता है