Wednesday, October 20, 2021
Uncategorized

नैना साहनी हत्याकांड याद आ गया नैना पासवान की मौत पर

एक साल पहले की थी लव मैरिज

भोपाल । मध्य प्रदेश की राजधानी कोलार से 15 अक्टूबर को लापता हुई ब्यूटीशियन की डेड बॉडी बुधनी के जंगल में मिली है। सीहोर पुलिस का दावा है कि उसी लड़के ने शिखा का मर्डर किया है जिससे 1 साल पहले शिखा ने लव मैरिज की थी। दरअसल शादी के 1 महीने बाद ही दोनों का ब्रेकअप हो गया था। हत्या का आरोपी खुद को भाजपा का नेता बताता है।
नैना के पिता शारदा पासवान ने आरोप लगाया कि रजत कैथवास ने बेटी का अश्लील वीडियो बना लिया था। इसके बाद वह उसे ब्लैकमेल करने लगा। शादी नहीं करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी देता था। उसे ब्लैकमेल करके शादी की थी। शादी के महीनेभर घर में रखने के बाद उसे यह कहकर भगा दिया कि उसके माता-पिता शादी से खुश नहीं हैं।


केस वापस लेने का दबाव बना रहा था
नैना ने पति के खिलाफ कोर्ट में भरण-पोषण का मामला दर्ज कराया था। इसके साथ ही पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। शारदा पासवान ने आरोप लगाया कि रजत केस वापस लेने के लिए दबाव बना रहा था। केस वापस नहीं लेने पर हत्या की धमकी देता था। रजत कैथवास खुद को भारतीय जनता पार्टी (युवा मोर्चा) शाहजहांनाबाद मंडल का उपाध्यक्ष बताता है।


सीहोर के एडिशनल एसपी समीर यादव ने बताया कि राजधानी भोपाल के कोलार क्षेत्र में रहने वाले बैंक कर्मचारी शारदा पासवान की 24 वर्षीय बेटी शिखा पासवान उर्फ नैना ब्यूटीशियन थी। करीब 1 साल पहले उसने नारियल खेड़ा के रहने वाले रजत कैतवार नाम के युवक से लव मैरिज की थी। रजत खुद को भारतीय जनता पार्टी का नेता बताता है। 1 महीने तक ससुराल में रहने के बाद शिखा वापस अपने पिता के पास आ गई थी। उसने रजत के खिलाफ भरण-पोषण के लिए गुजारा भत्ता का केस कोर्ट में दाखिल कर दिया था।

4 दिन पहले लापता हो गई थी

ASP श्री यादव ने बताया कि 15 अक्टूबर की शाम शिखा अपनी मां माया पासवान से झांकी देखने की बात किया कर निकली थी। रात भर वापस नहीं आई तो 16 अक्टूबर को परिवार जनों ने कोलार पुलिस थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। इधर सीहोर पुलिस को नेशनल हाईवे 69 पर मिडघाट सेक्शन के पास बुधनी के जंगलों में एक लड़की का शव मिला। जिसकी पहचान शिखा पासवान के रूप में हुई।

एएसपी समीर यादव ने बताया कि इस मामले में शिखा के पति रजत कैतवार को पूछताछ के लिए राउंडअप किया तो वह पुलिस के प्रश्नों का स्पष्ट उत्तर नहीं दे पाया और अंत में अपना अपराध स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि वह शिखा को बहाने से अपने साथ खुद नहीं लेकर आया था। यहां जंगल में गला घोट कर हत्या की। फिर चाकू से हमला किया ताकि जिंदा ना रहें और पत्थरों से कुचलने की कोशिश की। फिर उसकी स्कूटी को भोपाल में लाकर जला दिया ताकि पुलिस कंफ्यूज हो जाए

Leave a Reply