Home Blog Page 121

इस्लामिक धर्म गुरु के बयान से बवाल मचा,सेक्युलर पत्रकार नेता समाजसेवी दुम दबा कर बैठे,हराम बता दिया सब कुछ

जाकिर नाइक की तरह ही एक और इस्लामिक मजहब गुरु भारत में सक्रीय है, इसका नाम है फैज़ सयेद, ये भी इस्लाम पर कार्यक्रम करता है
इसे मजहबी समाज में काफी उच्च दर्जा प्राप्त है और ये खुलकर हिन्दू त्योहारों को गालियाँ देता है, हिन्दू त्योहारों को हराम बताता है, साथ ही मुसलमानों को ये भी बताता है की हिन्दुओ को उनके त्यौहार पर बधाई देना भी हराम है
सुन लीजिये खुद ही

Tarek Fatah

@TarekFatah

An Indian Mullah mocks Hindus and denigrates Hinduism’s holy festivals. Commands his congregation to not wish their Hindu friends “Happy Diwali” and to assert their seperate superior identity. Imagine what they when the mikes are off and the cameras shut.

5,863 people are talking about this
फैज़ सयेद कह रहा है की दिवाली की बधाई देना हराम है, हिन्दुओ को उनके त्योहारों पर बधाई देना हराम है, क्यूंकि हम हिन्दुओ के धर्म को बिलकुल नहीं मानते, उनके त्यौहार हराम है और हराम को बधाई देना भी हराम है
फैज़ सयेद ये बात कहीं छिपकर नहीं कह रहा बल्कि खुलेआम कह रहा है, इसे भारत में कितना डर है ये भी इसकी बातों से आप समझ सकते है, जो खुलकर हिन्दुओ के त्योहारों को गालियाँ दे रहा है, आप इसे रमजान ईद इत्यादि की बधाई दीजिये, पर ये आपको दिवाली की बधाई नहीं देगा क्यूंकि इसके मुताबिक वो हराम है

सांसद नुसरत जहां करने जा रही हैं शादी,ममता बनर्जी की खास

1. मॉडल से सांसद बनीं नुसरत जहां अब बनेंगी दुल्हन ।एक्ट्रेस नुसरत जहां सांसद बन चुकी हैं। मोदी लहर के बीच नुसरत ने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस से बंगाल की बशीरहाट सीट से चुनाव लड़ा और जीत गईं। अब नुसरत को लेकर नई खबर आ रही है कि वे जल्द शादी के बंधन में बंधने जा रही हैं।

2.

बंगाल की हॉट एंड सेक्सी एक्ट्रेस में शुमार नुसरत जहां ने अब वेस्ट बंगाल के बशीरहाट सीट से संसद तक का सफर पूरा कर लिया है। राजनिति का सफर तय करने से पहले नुसरत जहां बंगाली सिनेमा में सबसे फेमस एक्ट्रेस के तौर पर पहचानी जाती हैं। नुसरत जहां कई हिट बंगाली फिल्मों काम कर चुकी हैं।

3.

नुसरत ने साल 2010 में ब्यूटी कॉन्टेस्ट फेयर-वन मिस कोलकाता जीता था। इसी के बाद उन्होंने मॉडलिंग करियर की शुरुआत की। नुसरत जहां ने साल 2011 प्रदर्शित राज चक्रवर्ती के निर्देशन में बनी बंग्ला फिल्म शोत्रु से डेब्यू किया।

4.

चुनाव में जीतने बाद सोशल मीडिया पर नुसरत की तस्वीरें काफी वायरल हुई और साथ में वायरल हुई उनकी शादी की खबरें। लेकिन हाल ही में नुसरत ने अपनी शादी वाली अफवाह पर एक इंस्टाग्राम पोस्ट किया।

5.

नुसरत ने इंस्टाग्राम पर एक रोमांटिक तस्वीर शेयर की है, जिसमें उनकी रिंग नजर आ रही है और उनका हाथ किसी ने थाम रखा है। उन्होंने इस तस्वीर को शेयर करते हुए कैप्शन लिखा है, ‘जब आखिरकार सच सपने से बेहतर हो, जिंदगी में एक-दूसरे को थामे रखना।’ और यह पोस्ट उनकी शादी की खबर को कंफर्म करती है।

विधायक ने महिला नेत्री को सड़क पर लाते मारी,अब माफीनामा

विधायक ने एनसीपी की महिला नेता को मारी लात, पानी की दिक्कत दूर करने की लगाई थी गुहार
गुजरात के अहमदाबाद शहर में नरोदा से भाजपा विधायक बलराम थवानी ने एक महिला को लात से मारा-पीटा। महिला नीतू तेजवानी एनसीपी की वार्ड प्रभारी बताई गई है और उसका कहना है कि वह अपने इलाके में पानी के पाइप लाइन काटे जाने को लेकर विधायक से बात करने गई थी, जिसके बाद उनके साथ मारपीट की गई। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद विधायक बलराम थवानी ने शर्मिंदगी जताते हुए माफी मांगने की बात कही है।

Embedded video

ANI

@ANI

BJP’s Naroda MLA Balram Thawani kicks NCP leader (Kuber Nagar Ward) Nitu Tejwani when she went to his office to meet him over a local issue yesterday. Nitu Tejwani has registered a complaint against the MLA.

484 people are talking about this

इस वीडियो में नजर आ रहा है कि भगवा कुर्ता पहने विधायक थवानी महिला को लात से मार रहे हैं। उनके अलावा एक सफेद कुर्ता पहना व्यक्ति भी महिला को थप्पड़ मारता दिख रहा है। बताया जा रहा है कि महिला थवानी के कार्यालय गई थी और समस्या नहीं सुने जाने पर धरने पर बैठने की बात कही थी।

‘भाजपा राज में यह कैसी महिला सुरक्षा?’
नीतू का कहना है कि वह स्थानीय समस्या को लेकर विधायक से मिलने उनके कार्यालय गई थीं, लेकिन विधायक ने उनकी बात सुनने से पहले उन्होंने थप्पड़ जड़ दिया। जब मैं नीचे गिर गई, तो मुझे पैर से मारने लगे। नीतू का आरोप है कि विधायक और उनके लोगों ने उनके पति को भी मारा। मैं मोदीजी से पूछना चाहती हूं कि भाजपा के शासन में यह कैसी महिला सुरक्षा है?

View image on TwitterView image on Twitter

ANI

@ANI

Nitu Tejwani, NCP leader from Naroda: I had gone to meet BJP MLA Balram Thawani over a local issue but even before hearing me he slapped me, when I fell down he started to kick me. His people also beat up my husband. I ask Modi ji, how are women safe under the BJP rule?

334 people are talking about this

विधायक बोले- भावनाओं में बह गया, माफी मांग लूंगा

महिला के साथ मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद विधायक थवानी ने कहा कि मैं भावनाओं में बह गया था। अंजाने में मैंने उन्हें लात से मार दिया। मुझसे गलती हो गई और मैं इसे स्वीकार कर रहा हूं। मैं 22 साल से राजनीति में हूं और ऐसी घटना पहले कभी नहीं हुई। मैं महिला से माफी मांगूंगा।

BREAKING NEWS ममता बनर्जी ने हथियार डाले,जय श्री राम पर कोई आपत्ति नही,खुद भी लगाया नारा

बैकफुट पर ममता, बोली-‘जय श्री राम’ से कोई दिक्कत नहीं, BJP ने किया राजनीतिक इस्तेमाल
ममता बनर्जी ने रविवार को आरोप लगाया कि भाजपा बार-बार ‘जय श्री राम’ का इस्तेमाल कर धर्म को राजनीति में मिला रही है। उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, “जय सिया राम, जय रामजी की, राम नाम सत्य है आदि के धार्मिक और सामाजिक निहितार्थ हैं। लेकिन भाजपा धार्मिक नारे जय श्री राम को अपनी पार्टी के नारे के तौर पर गलत तरीके से इस्तेमाल कर धर्म को राजनीति से मिला रही है।”
ममता ने अपनी फेसबुक पोस्ट में कहा कि उन्हें किसी खास नारे के किसी रैली या पार्टी के कार्यक्रम में इस्तेमाल किये जाने पर कोई आपत्ति नहीं है। “हम दूसरों पर इस धार्मिक नारे के जबरन प्रवर्तन का सम्मान नहीं करते।” तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि नफरत की विचारधारा के प्रचार-प्रसार का प्रयास किया जा रहा है, जिसका विरोध किया जाना चाहिए। बनर्जी ने कहा, “हिंसा और तोड़फोड़ के जरिए नफरत की विचारधारा को जानबूझ कर बेचने का प्रयास किया जा रहा है जिसका निश्चित रूप से विरोध किया जाना चाहिए है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से 2 करोड़ लेपटॉप की धोखाधड़ी करने वाला पकड़ाया

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने राकेश जांगिड़ नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है. ये शख्स राजस्थान के नागौर का रहने वाला है और वहीं से पकड़ा गया है, इसने आईआईटी कानपुर से पढ़ाई की है.
आरोपी शख्स का नाम राकेश जांगिड़ हैआरोपी ने आईआईटी से की है पढ़ाई
2 करोड़ लोगों को फ्री लैपटॉप देने का किया दावा
नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की साइबर सेल ने राकेश जांगिड़ नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है. ये शख्स राजस्थान के नागौर का रहने वाला है और वहीं से पकड़ा गया है, इसने आईआईटी कानपुर से पढ़ाई की है. इस शख्स ने नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनते ही एक वेबसाइट बनाई और बताया कि नए सरकार बनते ही 2 करोड़ लोगों को फ्री लैपटॉप बांटा जाएगा. वेबसाइट में फ्री में सोलर पैनल भी बांटने के बारे में भी कहा था, जिसमें अप्लाई करने के लिए अंतिम तारीख 5 जून बताई गई थी. 2 दिन में 15 लाख लोगों ने इन योजनाओं के लिए आवेदन भी कर दिया था. पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने यह काम अपने भाई के साथ मिलकर किया और वह वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ाकर पैसा कमाना चाहता था. पुलिस ने आरोपी के पास से कंप्यूटर और जरूरी दस्तावेज जब्त कर लिए गए हैं.

समुदाय विशेष के लोगो ने किया पथराव,पलटवार होने पर मैदान छोड़ कर भागे,भारी पुलिस बल तैनात

मुजफ्फरनगर के गांव पिमौड़ा में भाजपा को वोट देने को लेकर छींटाकशी को लेकर दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए। दोनों पक्षों में मारपीट के बाद जमकर पथराव हुआ। पथराव में युवती सहित दो लोग घायल हो गए। पथराव से गांव में अफरा-तफरी मच गई। इस घटना के बाद गांव में तनाव व्याप्त हो गया। पुलिस ने बमुश्किल स्थिति को संभाला। पुलिस ने घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। प्रशासन ने एहतियात के तौर पर गांव में तनाव को लेकर पीएसी व पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।
थाना जानसठ क्षेत्र के गांव पिमौड़ा में लोकसभा चुनाव में परिणाम आने के बाद से भाजपा को वोट देने को लेकर दूसरे समुदाय के कुछ लोगों में नाराजगी थी। भाजपा को वोट देने को लेकर दोनों समुदायों के लोगों में छींटाकशी चल रही थी, जिसको लेकर कई बार पूर्व में भी विवाद होने से बच गया था।

भाजपा को वोट देने को लेकर फिर रात में छींटाकशी करने को लेकर दोनों समुदाय के लोग आमने सामने आ गए। देखते ही देखते मारपीट के बाद दोनों पक्षों के बीच जमकर पथराव हो गया। पथराव से गांव में अफरातफरी मच गई। गांव में तनाव व्याप्त हो गया।

वहीं पथराव की सूचना मिलने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों पक्षों के लोगों पर लाठियां फटकार कर खदेड़ दिया। पुलिस ने पथराव में घायल उर्वशी व शाहउल को सीएचसी में भर्ती कराया, जहां से उन्हें उपचार के बाद घर भेज दिया गया। गांव में तनाव को देखते हुए पीएसी व पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप
ग्रामीणों का आरोप है कि दूसरे समुदाय के युवकों ने युवती को खींच कर ले जाने का प्रयास किया, जिसको लेकर दोनों पक्षों में पथराव की घटना हुई। वहीं, दूसरे पक्ष के लोगों का आरोप है कि तीन चार युवक शराब पीकर रास्ते में खड़े हो जाते हैं और नमाज पढ़ने जाते समय छींटाकशी करते हैं। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ।

गांव में दोनों पक्षों में मामूली छींटाकशी को लेकर विवाद के बाद पथराव हुआ। युवती को खींच ले जाने की बात गलत है। गांव में सुरक्षा की दृष्टि से पीएसी व पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। अभी तक किसी पक्ष की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई है। दोनों पक्षों में समझौते के प्रयास भी चल रहे हैं। संतोष कुमार त्यागी, इंस्पेक्टर, थाना जानसठ।

19 छोटे बच्चों से बलात्कार के आरोपी इमाम मोहम्मद यूनुस खान गिरफ्तार,मदरसे में दीनी तालीम के नाम पर कुकर्म करता था

सबसे शिक्षित कहे जाने वाले केरल में सबसे ज्यादा इस्लामिक स्टेट आतंकियों की धरपकड़ के बाद यह मामला सामने आया है।
केरल के कोट्टयम में पुलिस ने मदरसे में पढ़ाने वाले एक मौलाना को गिरफ्तार किया है. मौलाना पर मदरसे के बच्चों के साथ यौन शोषण का आरोप है. 63 वर्षीय मौलाना पर आरोप है वह कई सालों से इस मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों को अपनी हवस का शिकार बनाता रहा है. जब यह मामला संज्ञान में आया तो पुलिस हरकत में आई और बच्चों के साथ दुष्कर्म के आरोप में इस मौलाना को गिरफ्तार कर लिया.
पुलिस ने आरोपी मौलाना को गिरफ्तार कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक आरोपी मौलाना छात्रों के घरवालों को विश्वास दिला रखा था कि वो छात्रों को भाषण देना सिखाता है, जिसकी वजह से देर हो सकती है। वहीं उसने मस्जिद अधिकारियों से अलग कमरा बनाया और कहा कि बाहर पढ़ाने में परेशानी होती है इसलिए वो कमरे में पढ़ाएगा, लेकिन वो कमरे में छात्रों के साथ दुर्व्यवहार करता था। जब मामला पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस ने आरोपी मौलान को गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले जम्मू-कश्मीर के एक मौलाना पर भी छात्र के साथ दुष्कर्म का आरोप लगा।
इसके पहले भी केरल में नन रेप केस भी काफी चर्चा में रहा. साल 2018 में केरल में रहने वाली एक नन ने जालंधर बिशप हाउस के बिशप फ्रेंको मुल्लकल पर रेप का आरोप लगाया था जिससे पुलिस ने मुल्लकल को गिरफ्तार कर उस पर कानूनी कार्यवाई की थी. नन ने बिशप पर आरोप लगाया था कि बिशप फ्रेंको मुल्लकल ने साल 2014 से लेकर 2016 के बीच उसके साथ कई बार रेप किया और किसी से न बताने की धमकी भी दी.
पुलिस ने बिशप मामले में फ्रेंको मुल्लकल के खिलाफ 2 हजार पेज की चार्जशीट दायर कर दी थी. इस चार्जशीट में मुल्लकल के खिलाफ IPC की धारा 342 (गलत तरीके से बंद रखने), 376सी (पद का दुरुपयोग कर यौन संबंध बनाने), 377 (अप्राकृतिक यौन संबंध) और 506(1) (धमकी) के तहत आरोप लगाए थे. चार्जशीट में 83 गवाह भी बनाए गए हैं। जिनमें एक आर्कबिशप, तीन बिशप के साथ 11 पादरी और 25 नन भी शामिल हैं.

BIG CRIME NEWS :1 करोड़ 20 लाख के नकली नोट छापे,मोहम्मद वसीम और मोहम्मद कासिम ने,एक जाहिल एक प्रिंसिपल का बेटा

एनआईए और गुरुग्राम पुलिस की संयुक्त छापेमारी में पकड़े गए नकली नोटों की बड़ी खेप का मास्टरमाइंड कासिम ही है। पुलिस रिमांड पर आरोपी कासिम ने बताया कि कम समय में ज्यादा पैसा कमाने की चाह में उसने यूट्यूब के सहारे नकली नोट बनाने का गोरखधंधा जाना था। करीब पांच माह तक इंटरनेट पर ऐसे कई वीडियो को देखने के बाद उसने अपने प्रिंसिपल के बेटे वसीम के साथ मिलकर 1.20 करोड़ के दो-दो हजार के नोट छाप डाले। इस खुलासे के बाद पुलिस आरोपी से लगातार पूछताछ में जुटी हुई है।
पुन्हाना के गांव सिंगर निवासी कासिम, पुत्र फजर (44) आठवीं पास है, जिसे कक्षा चार तक दूसरे आरोपी के प्रिंसिपल पिता ने पढ़ाया है। पुलिस के मुताबिक, अनपढ़ होने के बावजूद वह कंप्यूटर चला लेता है। इसी का फायदा उठाते हुए इसने यूट्यूब के जरिए नकली नोट छापने के वीडियो ढूंढकर उन्हें कई बार देखा।
इन वीडियो को देखने के बाद जब कासिम को यकीन हो गया कि अब वह इस गोरखधंधे की शुरुआत कर सकता है, तो इसके बाद उसने प्रिंटर के जरिये नोट छाप डाले। माना जा रहा है कि इन्होंने मेवात व गुरुग्राम में कई जगह इन्हें खपाया है। सदर थाना प्रभारी निरीक्षक दलबीर सिंह ने बताया कि आरोपियों को रिमांड पर लेकर इनके नेटवर्क को टटोला जा रहा है।
गौरतलब है कि 29 मई को सोहना रोड पर एनआईए व सदर थाना पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 1.20 करोड़ के नकली नोटों के साथ दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था। आरोपियों को 7 दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।
पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया था कि वह यह नोट अपने घर पर मेवात में ही छापते थे। इसके लिए नेपाल के रास्ते पाकिस्तान से पेपर व स्याही आती थी। मामले में अन्य लोग भी शामिल हैं, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

BREAKING NEWS विधायक,महापौर,पुर्व महापौर ने महिला से की अश्लील हरकतें,सब फरार

महिला का कहना है यदि वहां से भाग नही जाती तो …..
गोवा पुलिस ने शनिवार (1 जून) को शहर के महापौर (मेयर) उदय मडकाईकर, एक पूर्व महापौर यतिन पारेख और पणजी के कॉन्ग्रेसी विधायक अतानासियो मोनसेरात पर एक महिला से छेड़छाड़ के आरोप में मामला दर्ज किया है। इन सभी पर एक प्रशासनिक कार्रवाई के दौरान महिला के साथ दुर्व्यव्हार करने का आरोप लगा है।
महिला से छेड़छाड़ की यह घटना अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान हुई थी। दरअसल, पणजी नगरपालिका ने मांडवी नदी के तटीय इलाक़े पर स्थित कसीनो से अतिक्रमण हटाने का अभियान शुरू किया था। इस कसीनो ने फुटपाथ पर अतिक्रमण कर रखा था और नगर निगम के कर्मचारी जब इसे खाली कराने पहुँचे तो उनके साथ मेयर उदय मडकाईकर, एक पूर्व डिप्टी मेयर यतिन पारेख और पणजी से कॉन्ग्रेस विधायक अतानासियो मोनसेरात भी मौजूद थे।
पुलिस के अनुसार, शिक़ायत करने वाली महिला अतिक्रमण हटाने का विरोध कर रहे समूह में शामिल थी। महिला ने आरोप लगाया कि मेयर उदय मडकाईकर, एक पूर्व डिप्टी मेयर यतिन पारेख और पणजी से कॉन्ग्रेस विधायक
अतानासियो मोनसेरात ने उसके साथ छेड़छाड़ की, उसे ग़लत तरीक़े से छुआ और दुर्व्यव्यवहार किया।

चुनाव आयोग के पास सुरक्षित EVM, VVPAT,45 दिन का समय आपत्ति को,छुटभैये शोर मचा रहे,बड़े नेताओं की कोई आपत्ति नही

‘लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट की पर्चियों में कोई गड़बड़ी नहीं मिली’
लोकसभा चुनाव 2019 में ईवीएम और वीवीपैट की पर्चियों का मिलान होने के बाद भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर (सीएमडी) एमवी गौतम का बयान सामने आया है। गौतम ने शनिवार को बंगलुरु में बीईएल की वार्षिक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में ईवीएम की वोटों और वीवीपैट की पर्चियों में कोई गड़बड़ी नहीं पाई गई है।
गौतम ने आगे कहा, यहां तक कि किसी तरह की गड़बड़ी का एक भी मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने कहा ईवीएम से छेड़छाड़ की कोई संभावना नहीं है। बीईएल रिकॉर्ड दर्ज कर चुका है कि ईवीएम और वीपीपैट के वोटों में एक भी गड़बड़ी नहीं पाई गई है। ईवीएम को लेकर चल रहे सभी विवाद अब खत्म हो गए हैं। राजनीतिक पार्टियां भी जानती हैं कि ईवीएम से छेड़छाड़ संभव नहीं है।
ईवीएम की विश्वसनीयता पर गौतम ने कहा कि भारत में लोकतंत्र ईवीएम के जरिए ही जिंदा रह सकता है। वीपीपैट मशीन के साथ ईवीएम ने ये सुनिश्चित किया कि चुनावों में कोई हेराफेरी नहीं हुई। अगर हेराफेरी होती है तो इसे आसानी से पकड़ा जा सकता है। लेकिन हम अगर बैलेट का प्रयोग करते हैं तो हेराफेरी के मामलों में कुछ नहीं किया जा सकता।
गौतम ने आगे कहा कि अगर किसी प्रत्याशी को ईवीएम पर शक है वह चुनाव के बाद 45 दिनों के अंदर कोर्ट जाने के लिए स्वतंत्र है। सभी ईवीएम को 45 दिनों के लिए सुरक्षित स्थानों पर रखा गया है। उन्होंने कहा कि बीईएल ने चुनाव आयोग को लोकसभा चुनाव संपन्न कराने के लिए 10 लाख ईवीएम उपलब्ध कराए थे।