BREAKING NEWS : बलात्कारियों को नपुंसक बनाने पर विचार कर रही है सरकार,नारको एनालिसिस होगा प्रावधान में,जानिए दुनिया भर में सजाए

0
1872
बलात्कार दुनिया में इंसानों के खिलाफ होने वाले सबसे भयंकर अपराधों में शामिल है। रेप के शिकार व्यक्ति अक्सर समाज में नीची नज़रों से देखे जाते हैं। यह दिमागी और शारीरिक दोनों अपराधों की श्रेणी में गिना जाता है। इसके बाद, अक्सर पीड़ित व्यक्ति की सारी जिंदगी पर इस अपराध का असर बना रहता है।
हैदराबाद में पशु चिकित्सक युवती की गैंगरेप के बाद हत्या के विरोध में पूरा देश एकजुट हो गया। ऐसे बर्बर मामले देश के अलग- अलग हिस्‍से में देखने को मिले हैं। पिछले दिनों तेलंगाना में 10 माह की बच्‍ची के साथ दुष्‍कर्म की घटना देखने को मिली है। इसे लेकर संसद से लेकर देश के अलग-अलग हिस्‍से में लोग इसके खिलाफ एकजुट हो रहे हैं।
भारत में न्याय प्रक्रिया  है लंबी
लोगों का कहना है कि ऐसे दोषियों को तुरंत फांसी दी जाए। वहीं, 2012 में हुए दिल्ली के निर्भया केस में अब तक आरोपियों की फांसी की सजा नहीं हुई। मामला कोर्ट में लटका हुआ है। भारत में न्याय प्रक्रिया काफी लंबी है, लेकिन कुछ देशों में ऐसे जघन्य अपराधों के लिए सजाए मौत ही मिलती है।
भारत में पिछले दिनों अन्य अपराधों की तुलना में दुष्‍कर्म की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। इनसे जुड़े दोषियों को सजा देने के मामले में आम तौर पर काफी देरी होती है, इ‍सलिए आरोपियों के हौसले बुलंद होते हैं। सपा सांसद जया बच्‍चन ने राज्‍यसभा में चर्चा के दौरान कहा कि ऐसे दोषियों को भीड़ को सौंप दिया जाए। भीड़ ही उसके बारे में फैसला करेगी। वहीं दूसरी ओर दुनिया के कुछ देश ऐसे हैं जहां दुष्‍कर्म के दोषियों को 24 घंटे में सजा ए मौत दे दी जाती है। आइए जानते हैं कि किस देश में दुष्‍कर्म को लेकर कौन से कानून हैं और क्‍या है सजा का प्रावधान।
चीन में सीधे मौत की सजा
चीन उन देशों में शामिल है जहां दुष्‍कर्म के विशेष मामले में मौत की सजा का प्रावधान है। यहां पर दुष्‍कर्म के मामलों में कई लोगों को मौत के घाट उतारा भी जा चुका है। चीन में इस जुर्म की सजा जल्दे से जल्‍द दे दी जाती है।
सुअरों से कटवाकर मौत की सजा
पोलैंड में दुष्‍कर्म के आरोपी को सुअरों से कटवाया जाता है। हालांकि अब एक नया कानून आ चुका है, जिसमें आरोपी को नपुंसक बना दिया जाता है।
सिर में मार दी जाती है गोली
उत्तर कोरिया में अपराधियों के प्रति कोई दया या सहानुभूति नहीं दिखाई जाती है। यहां दुष्‍कर्म के लिए केवल एक ही सजा है और वो है मौत। यहां दुष्‍कर्मी को सरेआम सिर में कई गोलियां मारी जाती हैं।
पुरुष में डाले जाते हैं महिला के हॉर्मोन्‍स
इंडोनेशिया में दुष्‍कर्म करने वालों की भी अलग ही सजा है। यहां बलात्‍कार के आरोपियों को नपुंसक बनाने के साथ ही साथ उनमें महिलाओं के हॉर्मोन्‍स डाल दिए जाते हैं।
सऊदी अरब में इस्लामिक कानून शरिया लागू है। यहां किसी भी अपराध के लिए मौत की सजा का ही प्रावधान है। अगर कोई भी व्‍यक्ति दुष्‍कर्म का दोषी पाया जाता है तो अपराधी को फांसी पर टांगने, सिर कलम करने के साथ-साथ उसके यौनांगों को काटने की सजा सुनाई जा सकती है।
एक हफ्ते में दी जाती है फांसी
संयुक्त अरब अमीरत में कई जुर्मों के लिए कुछ अलग-अलग सजाएं हैं, लेकिन दुष्‍कर्मी को सीधे मौत की सजा सुनाई जाती है। यूएई के कानून के मुताबिक, यदि किसी ने सेक्स से जुड़ा अपराध किया है तो उसे सात दिनों में फांसी दे दी जाती है।
पत्‍थर से मार कर मौत
इराक में दुष्‍कर्मी को मौत की सजा दी जाती है, लेकिन सजा देने का तरीका अलग होता है। दुष्‍कर्म के दोषी को तब तक पत्थर मारे जाते हैं, जब तक कि उसकी मौत न हो जाए। दुष्‍कर्म जैसे जुर्म करने वालों की मौत आसान नहीं होती क्योंकि दोषी को काफी देर तक पीड़ा और यातना से भी गुजरना पड़ता है।
दुनिया में विभिन्न देशों की सरकारों ने इस अपराध से निपटने के लिए गंभीर कानून बनाए हैं। इनकी मदद से इस अपराध पर रोक लगाना खास मकसद होता है। जानिए ऐसी सजाएं जो इतनी भयंकर हैं कि अपराधी की रूह कांप जाए।
चीन : चीन की सरकार बलात्कारियों के खिलाफ सख्त है। यहां बलात्कारी को सीधे मौत की सज़ा दे दी जाती है। इसके अलावा उनके गुप्तांग को विकृत करने की सज़ा का भी प्रावधान है।
ईरान : ईरान में बलात्कार के अपराधी को या तो फांसी  दे दी जाती है या गोली मार दी जाती है। अगर पीड़ित अपराधी पर थोड़ा नरम पड़े तो 100 कोड़ों की सज़ा का प्रावधान है। इसके अलावा आजीवन कारावास की भी सज़ा दी जाती है।
नीदरलैंड : किसी प्रकार का सेक्सुअल अपराध, भले ही वह किसी की अनुमति के बिना फ्रेंच किस ही क्यों न हो, बलात्कार की श्रेणी में गिना जाता है। रेपिस्ट को 4 से लेकर 15 साल की कैद दी जाती है। किसी वेश्या पर भी इस तरह का अपराध साबित होने पर यहां 4 साल की कैद की सज़ा दी जाती है, जबकि अन्य देशों में वैश्याओं के खिलाफ इसे अपराध नहीं माना जाता।
फ्रांस : फ्रांस में बलात्कारी अपराधी को 15 साल तक की सज़ा दी जाती है। यह सज़ा 30 साल जितनी लंबी भी हो सकती है या आजीवन कारावास की भी हो सकती है।
नॉर्थ कोरिया : नॉर्थ कोरिया में किसी प्रकार की नर्मी नहीं दिखाई जाती। यहां त्वरित फैसला होता है, जिसके अंतर्गत बलात्कारी को सिर में गोली मार दी जाती है।
रूस : रूस में बलात्कारी को 3 साल से अधिक की सज़ा दी जाती है। यह 30 साल की भी हो सकती है। इसका फैसला पीड़ित को पहुंचे नुकसान के आधार पर किया जाता है।
अफगानिस्तान : यहां पर पीड़ित को सिर्फ 4 दिनों में न्याय मिल जाता है। यहां भी बलात्कारी को सिर में गोली मार दी जाती है।
नॉर्वे : नॉर्वे में बलात्कार के अपराधी को 4 से 15 साल की कैद का प्रावधान है। यह पीड़ित को पहुंचे नुकसान के आधार पर होता है।
यूएसए : यूएसए में दो तरह के कानून हैं। स्टेट लॉ और फेडरल लॉ। अगर बलात्कार का केस संघीय यानी फेडरल लॉ के अंतर्गत है तो बलात्कारी को 30 साल की सज़ा दी जाती है। वही स्टेट यानी राज्य के कानून हर राज्य में अलग अलग हैं।
भारत : भारत में बलात्कार के कानून को 2013 में काफी सख्त कर दिया गया। यहा 14 साल तक की सज़ा का प्रावधान है। अगर बलात्कार अनोखे केस की श्रेणी में आता है तो बलात्कारी को फांसी दे दी जाती है।
सउदी अरब : अगर किसी बलात्कार के अपराधी का अपराध साबित हो जाता है तो उसे जनता के सामने सज़ा दी जाती है। यह दुनिया के सबसे भयंकर सज़ाओं में से एक होती है।
यूएई : यहां बलात्कार के अपराधी पर किसी तरह की नर्मी नहीं दिखाई जाती। आपने रेप किया है तो आपको मरना होगा। सात दिन के भीतर यहां मौत की सज़ा दे दी जाती है।