हनीप्रीत को जमानत मिल गयी अदालत से,2 साल बाद ,बाबा रामरहीम की सबसे खास

0
771
हनीप्रीत को मिली जमानत, 2 साल से जेल में थी बंद
डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की करीबी हनीप्रीत को पंचकूला कोर्ट ने जमानत दे दी। पंचकूला में 25 अगस्त 2017 को हुए दंगों के मामले में कोर्ट ने हनीप्रीत को जमानत दी है।
2 नवंबर को कोर्ट ने इस मामले में हनीप्रीत समेत 15 आरोपियों पर से राजद्रोह की धारा हटा दी थी। इसके बाद हनीप्रीत ने कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की थी।
पिछली सनवाई में हनीप्रीत से से देशद्रोह की धारा को हटा दिया गया था। इसके बाद हनीप्रीत को वकील ने कोर्ट में जमानत याचिका दर्ज की थी। अंबाला जेल में बंद हनीप्रीत की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी हुई थी।
हनीप्रीत की जमानत याचिका पर जस्टिस सुरेंद्र गुप्ता ने फाइल देखते ही सुनवाई से इंकार कर दिया था। याचिका में कहा गया था कि दंगा भड़काने को लेकर 27 अगस्त 2017 को शिकायत दर्ज करवाई गई थी। इसमें हनीप्रीत और 15 अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया था।
हनीप्रीत को बाबा राम रहीम की करीबी और राजदार बताया जाता है। गुरमीत राम रहीम चौधरी को पंचकूला कोर्ट ने 2017 में साध्वी यौन शोषण मामले में आरोपी ठहराया था।
इसके बाद पंचकूला सहित कई जगहों पर हिंसा की घटनाएं हुई थीं। इस मामले में हनीप्रीत और अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया था। हिंसा के 38 दिनों बाद हनीप्रीत की गिरफ्तारी हुई थी।
28 अगस्त को सीबीआई कोर्ट ने दो साध्वियों से दुष्कर्म के मामले में गुरमीत राम रहीम को दोनों मामलों में 10-10 साल कैद की सजा सुनाई थी। फिर बाद में पत्रकार रामचंद छत्रपति की हत्या के मामले में भी गुरमीत को सजा हुई।