Thursday, September 16, 2021
Uncategorized

शमीमा बेगम उर्फ जिहादी दुल्हन ने बुर्क़ा छोड़ा,आतंकवाद से छुट्टी पाई,बताया महिलाएं सिर्फ एक काम के लिए वहां पर

दुनिया भर में ‘जिहादी दुल्हन’ के नाम से मशहूर हुई शमीमा बेगम ने अब ISIS से तौबा कर ली है। ISIS ‘दुल्हन’ शमीमा बेगम को अब अपने किए ​गए कामों पर पछतावा हो रहा है। उसने ‘गुड मार्निंग ब्रिटेन’ शो के लाइव इंटरव्यू में कहा कि वह दहशतगर्दों के पास जाने की बजाए मरना पसंद करेगी। शमीमा ने ब्रिटेन के लोगों से माफी माँगते हुए कहा कि वह अपने देश आकर आतंकवाद के सभी मामलों का सामना करने को तैयार है।

द सन की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन से भागकर वर्ष 2014 में आतंकी संगठन आईएसआईएस में शामिल हुई शमीमा बेगम की उम्र उस वक्त केवल 15 साल थी। उसने वहाँ पर ISIS के एक आतंकी से शादी कर ली थी और उसके साथ जिहाद में शामिल हो गई। इस शादी से उसे 2 बच्चे पैदा हुए थे।

रिपोर्ट के अनुसार एक विशेषज्ञ ने कहा कि शमीमा बेगम ‘वेस्टर्नाइज्ड’ दिखने की कोशिश कर रही हैं। शमीमा बेगम ने आईटीवी प्रसारक के ‘गुड मार्निंग ब्रिटेन’ शो में कहा, ”मैं ब्रिटेन के लोगों से माफी माँगती हूँ। मैंने बहुत ही कम उम्र में एक बड़ी गलती की थी और उस उम्र के अधिकतर बच्चों को पता भी नहीं होता है कि उन्हें अपने जीवन में क्या करना है। इस उम्र में अधिकतर बच्चे भ्रमित हो जाते हैं और वे आसानी से इस तरह की चीजों के झाँसे में आकर आसानी से बेवकूफ बन जाते हैं।”

इस दौरान ‘गुड मॉर्निंग ब्रिटेन’ शो में 22 साल की पूर्व आईएसआईएस दुल्हन काले रंग की नाइके बेसबॉल टोपी, ग्रे वेस्ट टॉप और लिपस्टिक लगाए हुए खुले बालों में बात करते हुए दिखाई दी। उसका लुक इस बार पिछले इंटरव्यू की तुलना में बिल्कुल अलग था, जिसमें वह हिजाब और बिना मेकअप के दिखाई देती थी।

बता दें कि शमीमा बेगम को मार्च 2021 में बांग्लादेश और नीदरलैंड्स ने बड़ा झटका दिया था। दोनों ही देशों ने उसे अपने यहाँ शरण देने से मना कर दिया था। इसके पहले 2019 में उससे ब्रिटिश सरकार ने उसकी नागरिकता छीन ली थी।

Leave a Reply