एसपीजी सुरक्षा में कुल देश के 4 व्यक्ति,3 नही मानते थे कोई नियम,अब मानना ही पड़ेगा

0
971
कम लोग जानते हैं कि गांधी नेहरू परिवार विदेश यात्रा में सुरक्षा कवर निजी रखता है।अभी तक एसपीजी कवर को एयरपोर्ट से रवाना कर दिया जाता था और गन्तव्य का पता भी नही चलता था।साथ ही यहां से आम नागरिक की तरह उड़ कर आगे प्राइवेट जेट और प्लेन का उपयोग करते थे।एसपीजी सुरक्षा प्राप्त मात्र 4 लोग में से तीन एक ही परिवार के हैं और पूरी तरह नियम की अनदेखी कर रहे थे।अब सरकार ने नियम तय करवाने की पाबंदी कर दी है।
केंद्र सरकार ने कहा है कि एसपीजी कवर रूल के किसी भी नियम को हल्के में नहीं लिया जा सकता
अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सिवा देश में सिर्फ तीन लोगों को ही एसपीजी कवर मिला है
ये तीनों सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी हैं जिन्हें अब विदेश दौरे पर भी SPG टीम को ले जाना पड़ेगा
स्पेशल प्रॉटेक्शन फोर्स (एसपीजी) में रहने वाले हर वीवीआईपी को इस विशिष्ट सुरक्षा कवर के पूरे नियम का पालन करना होगा। केंद्र सरकार ने कहा कि अब जिसे भी एसपीजी कवर मिला है, उसे हर वक्त एसपीजी टीम अपने साथ रखनी होगी, भले ही वह विदेश प्रवास पर ही क्यों न हो। ध्यान रहे कि अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार के ही तीनों सदस्यों, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को ही एसपीजी कवर मिला हुआ है।
अब नियमों में किसी तरह की छूट नहीं
कांग्रेस छोड़ बीजेपी बीजेपी में आए दिग्गज नेता टॉम वडक्कन ने कहा कि अति विशिष्ट लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की होती है, इसलिए उसे वीवीआईपी को हर जगह, हर हाल में सुरक्षा सुनिश्चित करना होता है। उन्होंने कहा, ‘इसका मकसद 24*7 सुरक्षा मुहैया कराना है। इसमें प्राइवेसी के उल्लंघन की कोई मंशा नहीं हो सकती है। उनको (गांधी परिवार के सदस्यों को) जहां जाना हो, वे इसके लिए आजाद हैं, लेकिन अगर उन्हें कहीं, कुछ हो गया तो इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।’
क्या कहते हैं जानकार
उधर, एसपीजी कवर रूल के जानकारों का कहना है कि केंद्र सरकार ने गांधी परिवार को मिल रही सुरक्षा की कोई समीक्षा नहीं की और न ही कोई नया नियम लागू किया, बल्कि सरकार मौजूदा एसपीजी रूल का पूरी तरह पालन करवाना चाहती है। एक एक्सपर्ट ने टाइम्स नाउ को बताया, ‘एसपीजी वीवीआई की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार होता है। अगर किसी को एसपीजी कवर मिल रहा है तो नियम के अनुसार उसे हर वक्त इस सिक्यॉरिटी ग्रुप को अपने साथ रखना चाहिए। हालांकि, गांधी परिवार के सदस्य इस नियम को दरकिनार करते हुए बिना एसपीजी कवर के विदेश जाते रहे हैं।’
करीबियों की उपेक्षा से नाराज हो विदेश गए राहुल?
नियम मानने को तैयार गांधी परिवार
गौरतलब है कि गांधी परिवार का कोई सदस्य जब विदेश जाता है तो उसकी सुरक्षा में लगी एसपीजी टीम हवाई अड्डे से वापस आ जाती है। केंद्र सरकार ने इसे सुरक्षा को लेकर लापरवाही मानते हुए नियम का कड़ाई से पालन करवाने की मंशा जताई है। कहा जा रहा है कि गांधी परिवार ने केंद्र सरकार के इच्छा के अनुरूप एसपीजी कवर रूल को पूरा-पूरा मानने पर सहमति जताई है। गौरतलब है कि राहुल गांधी अब भी विदेश में हैं जहां उनके साथ एसपीजी टीम नहीं गई है।