Sunday, February 21, 2021
Uncategorized

ममता बनर्जी पर गम्भीर आरोप,गाय तस्करी में शामिल है ममता का कुनबा,कैलाश विजयवर्गीय ने कहा सबूत भी सामने

ममता बनर्जी ने हालांकि कह तो दिया कि नही डरते पर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की गौ तस्करी पर सबूत की चुनौती स्वीकार नही की है,

भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी को CBI का नोटिस मिलने के बाद बोलीं ममता बनर्जी- चूहों से लड़ने से नहीं डरते

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा रविवार को भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी को कोयला चोरी मामले में पूछताछ के लिए नोटिस थमाए जाने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि जब तक उनके अंदर जान है, वह किसी भी तरह की धमकी से डरने वाली नहीं हैं। ममता बनर्जी ने कहा, ”हमें जेल से डराने का प्रयास नहीं करें, हमने बंदूकों का सामना किया है और हम चूहों से लड़ने से नहीं डरते।” मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि साल 2021 में केवल एक खेल होगा और उस मैच में मैं गोलकीपर होऊंगी और यह देखना चाहती हूं कि कौन जीतता है और कौन हारता है।
सीबीआई की टीम ने अभिषेक की पत्नी रुजिरा बनर्जी को पश्चिम बंगाल स्थित ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) से कोयला चोरी के मामले में जांच अधिकारी, सीबीआई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार की ओर से जारी नोटिस थमाया। इस मामले में अनूप मांझी को कथित मास्टरमाइंड बताया जाता है। रविवार को जारी नोटिस में रुजिरा से कहा गया कि वह हरीश मुखर्जी रोड स्थित अपने पते पर मामले से संबंधित कुछ सवालों के जवाब के लिए उपस्थित रहें। सीबीआई की कार्रवाई पर तृणमूल कांग्रेस और भाजपा ने एक-दूसरे पर निशाना साधा।
अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट करके कहा कि आज दोपहर दो बजे, सीबीआई ने मेरी पत्नी के नाम एक नोटिस तामील किया। हमें देश के कानून पर पूरा भरोसा है। हालांकि, यदि वे सोचते हैं कि वे हमें डराने के लिए इन हथकंडों का इस्तेमाल कर सकते हैं तो वे गलत हैं। हम वे लोग नहीं हैं, जो झुक जाएं।

केंद्रीय जांच एजेंसी की कार्रवाई पर तृणमूल कांग्रेस ने राजनीतिक प्रतिशोध का आरोप लगाते हुए केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर हमला बोला और कहा कि सीबीआई इसका एकमात्र सहयोगी है जो अब उसके पास बचा है। वहीं, बीजेपी ने तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि वह मामले का राजनीतिकरण कर रही है और कानून अपना काम करेगा।
बंगाल में अप्रैल-मई में चुनाव की संभावना
पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है, जहां बीजेपी ने तृणमूल कांग्रेस को अपदस्थ करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। डायमंड हार्बर से लोकसभा सदस्य अभिषेक बनर्जी का तृणमूल कांग्रेस में खासा प्रभाव है। सीबीआई ने अभिषेक के करीबी माने जाने वाले बिनय मिश्रा को भी एक अलग मामले में नोटिस थमाया है जो मवेशी तस्करी से जुड़ा है। बनर्जी की पत्नी को केंद्रीय जांच एजेंसी ने ऐसे दिन नोटिस थमाया है, जब एक दिन बाद कोलकाता की एक अदालत में बनर्जी द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ दायर किए गए मानहानि के मामले में सुनवाई होनी है। शाह पश्चिम बंगाल में बीजेपी के चुनाव प्रचार अभियान का नेतृत्व कर रहे हैं।

कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा आरोप, ‘गाय की तस्करी से पैसे कमाता था ममता बनर्जी का परिवार, मेरे पास सबूत’

सीबीआई ने कोयला तस्करी के मामले में टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee news) की पत्नी को नोटिस जारी किया है। बीजेपी कहा कहना है कि कोयला तस्करी तो सिर्फ एक बानगी है, मुख्यमंत्री (ममता बनर्जी) का परिवार गाय की तस्करी में भी शामिल रहा है और उससे खूब पैसे कमाए हैं।

ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी को कोयला तस्करी मामले में नोटिस

बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय बोले, कोयला तस्करी मामला तो सिर्फ एक बानगी है

उन्होंने कहा, सीएम का परिवार गो तस्करी में शामिल रहा है, उससे खूब पैसे कमाए हैं

नोटिस पर अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, हम कभी भी झुकने वालों में से नहीं हैं

सीबीआई ने कोयला तस्करी के मामले में टीएमसी सांसद और ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के भतीजे अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee news) की पत्नी को नोटिस जारी किया है। रविवार दोपहर अभिषेक बनर्जी के घर पहुंची सीबीआई टीम ने अभिषेक की पत्नी रुजिरा नरूला (Abhishek Banerjee wife) को यह नोटिस दिया। बताया जा रहा है कि जल्द ही उनसे इस मामले में पूछताछ हो सकती है। दूसरी तरफ बीजेपी ने कहा है कि कोयला तस्करी तो सिर्फ एक बानगी है, मुख्यमंत्री (ममता बनर्जी) का परिवार गाय की तस्करी में भी शामिल रहा है और उससे खूब पैसे कमाए हैं।

‘गाय की तस्करी से पैसे कमाता था मुख्यमंत्री का परिवार’
अभिषेक बनर्जी से जुड़े आरोपों पर एक टीवी चैनल से बातचीत करते हुए बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘ट्रक के ट्रक रोज कोयला निकाला जाता था, जो बाहर भी जाता था। ये तो सिर्फ कोयला तस्करी की बात है, मेरे पास तो गाय की तस्करी के पैसे का कैसे लेनदेन हुआ है इसके भी सबूत हैं। आने वाले समय में वो भी पता लगेगा कि किस तरह मुख्यमंत्री (ममता बनर्जी) के परिवार के लोग गाय की तस्करी से पैसे कमाते थे।’

विजयवर्गीय बोले, नोटिस का चुनाव से कोई लेना-देना नहीं
नोटिस की टाइमिंग को लेकर किए गए सवाल पर विजयवर्गीय ने कहा, ‘सीबीआई की जांच का चुनाव से कोई लेना-देना नहीं है। सीबाआई को जब तथ्य मिलेंगे तब वो समन देंगे। अभिषेक के ससुराल के लोग इसमें (कोयला तस्करी) शामिल हैं। कई आईएएस, आईपीएस भी इसमें शामिल हैं। मेरे पास सारे कागजात हैं।’

अभिषेक बोले, इन तरीकों से हमें झुका नहीं सकते
सीबीआई के नोटिस पर अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, ‘आज दोपहर 2 बजे सीबीआई ने मेरी पत्नी के नाम एक नोटिस भेजा है। मुझे देश के कानून पर पूरा भरोसा है। हालांकि अगर उन्हें लगता है कि वह ऐसे तरीकों से हमें डरा सकते हैं, तो वे गलतफहमी में हैं। हम कभी भी झुकने वालों में से नहीं हैं।’

अभिषेक बनर्जी ने गृह मंत्री पर किया है मानहानि केस
दिलचस्प है कि सीबीआई का यह समन ऐसे समय आया है जब अभिषेक बनर्जी ने हाल ही में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के खिलाफ मानहानि केस किया था। अभिषेक की अपील पर अमित शाह को समन जारी किया गया है और स्पेशल एमपी/एमएलए कोर्ट ने उन्हें 22 फरवरी को व्यक्तिगत तौर पर या वकील के जरिए पेश होने को कहा है। अभिषेक बनर्जी के वकील संजय बसु ने यह दावा किया था कि अमित शाह ने कोलकाता में बीजेपी की एक रैली के दौरान टीएमसी सांसद के खिलाफ अपमानजनक बयान दिए थे।

 

Leave a Reply