Thursday, November 19, 2020
Uncategorized

बम धमाके में 5 के चिथड़े उड़े,राज्यपाल ने माना,राज्य सरकार मानने को तैयार नही

हर विस्फोट के बाद राज्य सरकार उसको  बम धमाके के अलावा सब कुछ बता देती है।

पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में गुरुवार को एक  फैक्ट्री में हुए विस्फोट में कम से कम 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 5 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने इसे अवैध बम निर्माण से जोड़ा, हालांकि, राज्य सरकार ने इससे इनकार किया है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह घटना सुबहसाढ़े 11 बजे सुजापुर इलाके में हुई। उन्होंने बताया, ”फैक्ट्री में काम करने वाले चार श्रमिकों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक अन्य को अस्पताल में मृत घोषित किया गया। इस विस्फोट में 5 अन्य गंभीर रूप से घायल हुए हैं। पुलिस अधीक्षक आलोक राजोरिया ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि कारखाने के अंदर एक भारी मशीन में तकनीकी खराबी के कारण उच्च तीव्रता का विस्फोट हुआ।

उन्होंने कहा, ”विस्फोट प्लास्टिक निर्माण के दौरान हुआ। हम सभी कोणों से जांच कर रहे हैं और एक फोरेंसिक टीम घटनास्थल का दौरा करेगी। अधिकारी ने कहा कि स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए मौके पर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है। राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों के लिए 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये की घोषणा की है। हालात का जायजा लेने के लिए तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य मंत्री फिरहाद हकीम को मौके पर भेजा गया है।

राज्य के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने इस घटना पर दुख जताया और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को ”अवैध बम बनाने पर रोक लगाने और ”पेशेवर गैर-पक्षपातपूर्ण जांच सुनिश्चित करने के लिए कहा। उन्होंने ट्वीट किया, ”मालदा जिले के सुजापुर इलाके में विस्फोट में हुई मौतों से व्यथित हूं। एसपी के मुताबिक 5 लोगों की मौत हुई है और पांच अन्य घायल हुए हैं। यह समय है कि ममता बनर्जी अवैध रूप से बम निर्माण पर रोक लगाएं और पेशेवर गैर-पक्षपातपूर्ण जांच सुनिश्चित करें।  धनखड़ ने प्रशासन से घायलों को चिकित्सा सहायता सुनिश्चित करने के लिए भी कहा।”

 

Leave a Reply