बीबी नौशाबा खातून ने दर्ज कराया मोहम्मद जाफर पर मामला,महिला आयोग सदमे में,अपने अब्बा के साथ चाहता है…

2
बिहार राज्य महिला आयोग में पहुँची एक पीड़िता मुस्लिम महिला ने बताया कि उसका शौहर उसे ससुर का सहयोग करने के लिए कहता है। वह कहता है कि अब्बा जवान हैं, उनका सहयोग करो, नहीं तो तलाक दे देंगे। ऐसा नहीं करने पर वह मेरे साथ मारपीट करते हैं। इससे परेशान मुस्लिम महिला ने अपने शौहर और ससुर के ख़िलाफ महिला आयोग में शिकायत की है।
बुधवार को बिहार राज्य महिला आयोग पहुँची पटना सिटी की नौशाबा खातून ने अपने शौहर और ससुर के खिलाफ शिकायत की। आयोग की सदस्य प्रतिमा के सामने पटना सिटी की रहने वाली पीड़िता ने बताया कि उसका निकाह 2012 में मुजफ्फरपुर के निवासी मोहम्मद जाफर के साथ हुआ था, जो कि दरभंगा में ही फ्रीज बनाने का काम करता है। निकाह के बाद पीड़िता नौशाबा अपने शौहर के साथ दरभंगा में रहने लगी है, लेकिन सास के इंतकाल के बाद पति उसे ससुराल लेकर गया, जहाँ वो कुछ दिनों तक रह कर वापस आ गई है।
पीड़िता के मुताबिक, वापस आने के बाद शौहर के बर्ताव में काफी बदलाव आया और वो हमेशा उसे ससुराल जाकर रहने को कहने लगा। इतना ही नहीं मना करने पर मार-पीट भी करने लगा। इस दौरान बीते साल ईद के त्यौहार पर ससुराल गई, तो पति ने उसे वहीं छोड़ दिया। उस वक्त ससुर पीड़िता को अकेला देखकर कभी देर रात रूम पर आ जाते, तो कभी बाथरूम में कपड़े धोते वक्त पीछे खड़े रहते। इतना ही नहीं ससुर मुझे अपना जूठा खाना खाने को कहते औऱ बोलते थे कि मेरा जूठा खाओगी तो मुझसे मुहब्बत हो जाएगी।
पीड़िता ने इस बात की शिकायत अपने शौहर से की तो उसने पहले तो मोबाईल छीन लिया और कहा कि मेरा अब्बा जवान है उनका सहयोग करो, अब्बा को खुश रखना तुम्हारा फर्ज है। वरना तुमको तलाक दे देंगे। इसके बाद किसी तरह से पीड़िता अपने मायके और वहाँ से राज्य महिला आयोग को दोनों के खि़लाफ लिखित में शिकायत देकर न्याय की गुहार लगाई। पीड़िता ने यह भी बताया कि मेरे ससुर का दो निकाह हुआ था और उनकी दोनों पत्नियाँ ही अल्लाह को प्यारी हो गयी।