Saturday, July 31, 2021
Uncategorized

6 और कुख्यात गुंडो ने किया आत्मसमर्पण योगी पुलिस के सामने,मो फुरकान,मो फरमान,मो तासीम,मो इनाम,मो नौशाद व मो हाशिम

उत्तर प्रदेश में अपराधियों को पुलिस एनकाउंटर में ढ़ेर होने का भय किस कदर सता रहा है, इसका एक और ताजा उदाहरण सामने आया है। गैंगस्टर समेत कई मामलों में वांछित यूपी के 6 और अपराधियों ने थाने पहुंचकर पुलिस के सामने आत्मसमर्ण कर लिया। यूपी में एक हफ्ते के अंदर यह दूसरा मामला है, जब गैंगस्टरों ने खुद थाने पहुंचकर पुलिस के सामने सरेंडर किया हो। इन गैंगस्टरों ने अपराधों से दूर होने की भी कमस खाई।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिस शामली (Shamli Police) में एक समय बदमाशों का खौफ रहता था, वहां पिछले एक महीने से उनके सरेंडर (Shamli Gangster Surrender) करने का दौर जारी है। बुधवार को भी 6 गैंगस्टरों ने कैराना कोतवाली पहुंचकर पुलिस के सामने सरेंडर किया। सरेंडर करने पहुंचे फुरकान, फरमान, तासीम, इनाम, नौशाद और हाशिम ने पुलिस के सामने ही अपराध से दूर रहने की कसम खाई। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी से पहले आरोपियों ने कहा कि वह जेल से वापसी के बाद सामान्य जीवन जिएंगे। पुलिस के मुताबिक, करीब पांच महीने पहले समाजवादी पार्टी के विधायक चौधरी नाहिद हसन और उनकी मां तबस्सुम हसन समेत 40 लोगों पर गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। आठ आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है जबकि 16 आरोपी सरेंडर कर चुके हैं। इसी मामले में छह आरोपियों ने बुधवार को कैराना कोतवाली पहुंचकर सरेंडर कर दिया। इस तरह इस केस में अब तक कुल 30 आरोपी जेल भेजे जा चुके हैं।

यह मामला पश्चिम उत्तर प्रदेश के शामली का है। जहां गिरफ्तारी, एनकाउंटर समेत अन्य कानूनी कार्यवाही से बचने के लिये गैंगस्टर एक्ट में वांछित 6 गैंगस्टरों ने थाना कैराना पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर लिया। अपराधियों ने पुलिस थाने में भविष्य में अपराध से दूर रहने की भी खाई कसम खाई और शांति पूर्ण जीवन जीने का वादा किया।

थाना कैराना पुलिस के समक्ष सरेंडर करने वाले इन गैंगस्टरों के फुरकान, फरमान, तासीम, इनाम, नौशाद व हाशिम है। ये सभी गांव रामड़ा कैराना के निवासी है, जो कई मामलों में वांछित चल रहे थे। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर चालान पेश कर दिया।

एसपी सुकीर्ति माधव ने बताया कि वांछित गैंगस्टरों की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत वांछित अपराधियों से आत्मसमर्पण करने को कहा जा रहा है। इसके साथ ही उन्हें शांति पूर्ण जीवन जीने के लिये भी प्रेरित किया जा रहा है।

आरोपियों ने बताया कि उन्होंने खुद थाने में पहुंचकर आत्मसमर्पण किया है। उन्होंने कहा कि वे अब आगे से अपराध नहीं करने की कसम खाते हैं। उन्होंने जेल से आने के बाद शांति से अपना जीवन जीने की बात कही। इससे पहले पिछले हफ्ते भी तीन वांछित अपराधियों ने थाने पहुंचकर सरेंडर किया था।

Leave a Reply